बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Sunday, November 4, 2012

सुनने को तैयार


   जौन एक नम्र, अशिक्षित व्यक्ति है जिसे परमेश्वर ने मोज़ामबीक में शांति लाने की प्रक्रिया का आरंभ करने के लिए प्रयोग किया। आपको उसका नाम इस शांति प्रक्रिया से संबंधित किसी आधिकारिक दस्तावेज़ में नहीं मिलेगा; जौन ने केवल इतना किया था कि अपने दो परिचितों के बीच आपसी भेंट और वार्ता का प्रबन्ध किया - एक परिचित थे कीन्या देश के राजदूत बेथेल किप्लागत और दूसरे थे मोज़ाम्बीकि देश के एक नागरिक। इस भेंट और वार्ता से जो बात आरंभ हुई वह मोज़ामबीक में १० वर्षों से चल रहे गृह-युद्ध को समाप्त करने वाली शांति वार्ता आरंभ करने का माध्यम बनी।

   अपने इस अनुभव के आधार पर राजदूत किप्लागत ने हर व्यक्ति को सम्मान देने के महत्व को समझा। उन्होंने कहा, "किसी की आप इसलिए उपेक्षा नहीं कर सकते क्योंकि वह अशिक्षित है, या वह श्वेत अथवा श्याम रंग का है, या स्त्री है, या बुज़ुर्ग है अथवा उम्र में छोटा है। हर मुलाकात महत्वपूर्ण और पावन है और हमें उसकी कद्र करनी है। हम नहीं जानते कि उस मुलाकात में हमारे लिए क्या सन्देश रखा हो।"

   परमेश्वर का वचन बाइबल भी इस तथ्य के सत्य को प्रमाणित करती है। अराम के राजा का सेनापति नामान एक बड़ा प्रभावशाली और सामर्थी व्यक्ति था, किंतु वह कोढ़ी था। उसके द्वारा इस्त्राएल से बन्धुआ बनाकर लाई गई एक छोटी लड़की ने, जो उसके यहां दासी थी, नामान की पत्नि को बताया कि इस्त्राएल में एलीशा भविष्यद्वक्ता उसके पति को चंगा कर सकता है। क्योंकि नामान इस दासी और उम्र में छोटी लड़की की बात सुनने को तैयार हुआ, ना केवल उसका रोग जाता रहा और उसका जीवन बच सका, वरन वह एकमात्र सच्चे और जीवते परमेश्वर को भी जान सका (२ राजा ५:१५)।

   परमेश्वर कई दफा हम से ऐसे लोगों में होकर बात करता है जिनकी सुनने को संसार में कम ही लोग तैयार होते हैं। परमेश्वर की बात सुनना चाहते हैं तो दीन और नम्र लोगों की बात सुनने को तैयार रहें। - जूली ऐकैरमैन लिंक


अपनी असाधारण योजनाओं को पूरा करने के लिए परमेश्वर साधारण लोगों को प्रयोग करता है।

तब वह अपने सब दल बल समेत परमेश्वर के भक्त के यहां लौट आया, और उसके सम्मुख खड़ा होकर कहने लगा सुन, अब मैं ने जान लिया है, कि समस्त पृथ्वी में इस्राएल को छोड़ और कहीं परमेश्वर नहीं है। इसलिये अब अपने दास की भेंट ग्रहण कर। - २ राजा ५:१५

बाइबल पाठ: २ राजा ५:१-१६
2Ki 5:1  अराम के राजा का नामान नाम सेनापति अपने स्वामी की दृष्टि में बड़ा और प्रतिष्ठित पुरुष था, क्योंकि यहोवा ने उसके द्वारा अरामियों को विजयी किया था, और यह शूरवीर था, परन्तु कोढ़ी था। 
2Ki 5:2  अरामी लोग दल बान्धकर इस्राएल के देश में जाकर वहां से एक छोटी लड़की बन्धुवाई में ले आए थे और वह नामान की पत्नी की सेवा करती थी। 
2Ki 5:3  उस ने अपनी स्वामिन से कहा, जो मेरा स्वामी शोमरोन के भविष्यद्वक्ता के पास होता, तो क्या ही अच्छा होता ! क्योंकि वह उसको कोढ़ से चंगा कर देता। 
2Ki 5:4  तो किसी ने उसके प्रभु के पास जाकर कह दिया, कि इस्राएली लड़की इस प्रकार कहती है। 
2Ki 5:5  अराम के राजा ने कहा, तू जा, मैं इस्राएल के राजा के पास एक पत्र भेजूंगा; तब वह दस किक्कार चान्दी और छ: हजार टुकड़े सोना, और दस जोड़े कपड़े साथ लेकर रवाना हो गया। 
2Ki 5:6  और वह इस्राएल के राजा के पास वह पत्र ले गया जिस में यह लिखा था, कि जब यह पत्र तुझे मिले, तब जानना कि मैं ने नामान नाम अपने एक कर्मचारी को तेरे पास इसलिये भेजा है, कि तू उसका कोढ़ दूर कर दे। 
2Ki 5:7  इस पत्र के पढ़ने पर इस्राएल का राजा अपने वस्त्र फाड़ कर बोला, क्या मैं मारने वाला और जिलाने वाला परमेश्वर हूँ कि उस पुरुष ने मेरे पास किसी को इसलिये भेजा है कि मैं उसका कोढ दूर करूं? सोच विचार तो करो, वह मुझ से झगड़े का कारण ढूंढ़ता होगा। 
2Ki 5:8  यह सुनकर कि इस्राएल के राजा ने अपने वस्त्र फाड़े हैं, परमेश्वर के भक्त एलीशा ने राजा के पास कहला भेजा, तू ने क्यों अपने वस्त्र फाड़े हैं? वह मेरे पास आए, तब जान लेगा, कि इस्राएल में भविष्यद्वक्ता तो है। 
2Ki 5:9  तब नामान घोड़ों और रथों समेत एलीशा के द्वार पर आकर खड़ा हुआ। 
2Ki 5:10  तब एलीशा ने एक दूत से उसके पास यह कहला भेजा, कि तू जाकर यरदन में सात बार डुबकी मार, तब तेरा शरीर ज्यों का त्यों हो जाएगा, और तू शुद्ध होगा। 
2Ki 5:11  परन्तु नामान क्रोधित हो यह कहता हुआ चला गया, कि मैं ने तो सोचा था, कि अवश्य वह मेरे पास बाहर आएगा, और खड़ा होकर अपने परमेश्वर यहोवा से प्रार्थना करके कोढ़ के स्थान पर अपना हाथ फेरकर कोढ़ को दूर करेगा ! 
2Ki 5:12  क्या दमिश्क की अबाना और पर्पर नदियां इस्राएल के सब जलाशयों से अत्तम नहीं हैं? क्या मैं उन में स्नान करके शुद्ध नहीं हो सकता हूँ? इसलिये वह जलजलाहट से भरा हुआ लौटकर चला गया। 
2Ki 5:13  तब उसके सेवक पास आकर कहने लगे, हे हमारे पिता यदि भविष्यद्वक्ता तुझे कोई भारी काम करने की आज्ञा देता, तो क्या तू उसे न करता? फिर जब वह कहता है, कि स्नान करके शुद्ध हो जा, तो कितना अधिक इसे मानना चाहिये। 
2Ki 5:14  तब उस ने परमेश्वर के भक्त के वचन के अनुसार यरदन को जाकर उस में सात बार डुबकी मारी, और उसका शरीर छोटे लड़के का सा हो गया; उौर वह शुद्ध हो गया। 
2Ki 5:15  तब वह अपने सब दल बल समेत परमेश्वर के भक्त के यहां लौट आया, और उसके सम्मुख खड़ा होकर कहने लगा सुन, अब मैं ने जान लिया है, कि समस्त पृथ्वी में इस्राएल को छोड़ और कहीं परमेश्वर नहीं है। इसलिये अब अपने दास की भेंट ग्रहण कर। 
2Ki 5:16  एलीशा ने कहा, यहोवा जिसके सम्मुख मैं उपस्थित रहता हूँ उसके जीवन की शपथ मैं कुछ भेंट न लूंगा, और जब उस ने उसको बहुत विवश किया कि भेंट को ग्रहण करे, तब भी वह इनकार ही करता रहा। 

एक साल में बाइबल: 
  • यर्मियाह ३२-३३ 
  • इब्रानियों १