बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, November 4, 2019

मुस्कराहट



      मुझे और मेरी पत्नि को पैरिस में लुवरे संग्रहालय जाने के सौभाग्य मिलने बाद, हमने अपनी ग्यारह वर्षीय पोती से फोन पर बात की। जब हमने उसे बताया कि हमने वहाँ पर सुविख्यात “मोना लिसा” चित्र को देखा, तो उसने तुरंत पूछा, “क्या वह मुस्कुरा रही है?” इस चित्र से संबंधित यह एक बड़ा प्रश्न है। लियोनार्डो द्वारा तेल के रंगों से बनाए गए इस चित्र के बनने के 600 से भी अधिक वर्ष के बाद भी हमें यह निश्चित पता नहीं है कि वह मुस्कुरा रही है या नहीं। हम चाहे उस चित्र की सुंदरता से मन्त्र-मुग्ध हों, परन्तु हम अभी तक मोना लिसा की मुद्रा के विषय अनिश्चित हैं।

      उस चित्र के विसमय का एक भाग उसकी “मुस्कराहट” है। किन्तु क्या यह महत्वपूर्ण है भी? क्या परमेश्वर के वचन बाइबल में मुस्कुराना आया है? वास्तव में, यह शब्द बाइबल में पाँच से भी कम बार आया है, और कभी इस अभिप्राय से नहीं कि हमें ऐसा करना चाहिए। परन्तु बाइबल हमें ऐसा रैवया अपनाने के लिए अवश्य कहती है जिससे कि मुस्कराहट आए – और यह रवैया है आनन्दित रहने का। बाइबल में हम आनन्द से संबंधित शब्दों को लगभग 250 बार पढ़ते हैं। दाऊद बताता है कि वह जब प्रभु के विषय में सोचता है तो, “मेरा हृदय प्रफुल्लित है” (भजन 28:7)। भजनों में यह भी आया है कि हमें “यहोवा के कारण जयजयकार करना है” (भजन 33:1); परमेश्वर के नियम “मेरे[हमारे] हृदय के हर्ष का कारण हैं” (भजन 119:111); और, “हम आनन्दित हैं” क्योंकि “यहोवा ने हमारे साथ बड़े बड़े काम किए हैं” (भजन 126:3)।

      स्पष्ट रूप से जो आनन्द प्रभु हमें उस सब से प्रदान करता है जो उसने हमारे लिए किया है, वह हमारे चहरे पर मुस्कराहट ला सकता है। - डेव ब्रैनन


हृदय में बसी आशा, चहरे पर मुस्कराहट ला सकती है।

धर्मियों को आशा रखने में आनन्द मिलता है, परन्तु दुष्टों की आशा टूट जाती है। - नीतिवचन 10:28

बाइबल पाठ: भजन 28:6-9
Psalms 28:6 यहोवा धन्य है; क्योंकि उसने मेरी गिड़गिड़ाहट को सुना है।
Psalms 28:7 यहोवा मेरा बल और मेरी ढ़ाल है; उस पर भरोसा रखने से मेरे मन को सहायता मिली है; इसलिये मेरा हृदय प्रफुल्लित है; और मैं गीत गाकर उसका धन्यवाद करूंगा।
Psalms 28:8 यहोवा उनका बल है, वह अपने अभिषिक्त के लिये उद्धार का दृढ़ गढ़ है।
Psalms 28:9 हे यहोवा अपनी प्रजा का उद्धार कर, और अपने निज भाग के लोगों को आशीष दे; और उनकी चरवाही कर और सदैव उन्हें सम्भाले रह।

एक साल में बाइबल: 
  • यिर्मयाह 32-33
  • इब्रानियों 1