बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, December 6, 2010

कानाफूसी

मसीही उद्योगपति और अविष्कारक ला टूर्नियो अपनी बनाई मिट्टी खोदने और ढोने वाली विशाल मशीनों के लिये जाने जाते हैं। उनकी बनाई एक मशीन का विचित्र नाम था - Model G [नमूना जी.]। एक खरीददार ने मशीन विक्रेता को चकराने के उद्देश्य से उससे पूछा "इस G का क्या तात्पर्य है?"

विक्रेता ने तुरंत उत्तर दिया "मेरे विचार से G रखा गया है Gossip, यानि कानाफूसी के लिये। क्योंकि यह मशीन कानाफूसी जैसी व्यर्थ मिट्टी बड़े कौशल से और बहुत शीघ्रता से फेंकने को ले जाती है।"

बाइबल में मूल इब्रानी भाषा में जो शब्द कानाफूसी के लिये प्रयोग हुआ है उसका अर्थ होता है नाशकारी बातों को फुसफुसाना, और नीतिवचन की पुस्तक में कानाफूसी के विष्य में बहुत कुछ लिखा है: कानाफूसी करने वाले विश्वासयोग्य नहीं होते (नीतिवचन ११:१३) और उनसे दूर रहना चाहिये (नीतिवचन २०:१९)। कानाफूसी से अच्छे मित्रों में भी फूट और मतभेद हो जाते हैं (नीतिवचन १६:२८) और इसके द्वारा रिश्तों की दरारें बनी रहती है (नीतिवचन १८:८)। इससे परस्पर विरोध के अंगारों को हवा मिलती है और गलतफहमीयां तथा ठेस की अग्नि की लपटें तेज़ होतीं हैं (नीतिवचन २६:२१-२२)।

यदि हम सोचते हैं कि कुछ मज़ेदार, रसीली, चटपटी बातों को इधर उधर फुसफुसाने से कुछ नुकसान नहीं होता, तो हम अपने आप को धोखा देते हैं। कानाफूसी सदा अपने पीछे विनाश का मंज़र छोड़ती है और यह वह अपराध है जिसका शिकार का कोई न कोई अवश्य ही होता है। कानाफूसी से किसी न किसी को तो नुकसान अवश्य ही होता है। इसलिये अकलमंदों के लिये एक सलाह है: "...जहां कानाफूसी करने वाला नहीं वहां झगड़ा मिट जाता है।" (नीतिवचन २६:२०)

भला होगा कि हम कानाफूसी को अपने जीवन में कोई स्थान न दें और आपसी प्रेम तथा सदभाव से रिशतों को निभाएं और बढ़ाएं। - जो स्टोवैल


कानाफूसी को खत्म करना है तो उसे बिलकुल नज़रांदाज़ करना आरंभ कर दीजिये।

जैसे लकड़ी न होने से आग बुझती है, उसी प्रकार जहां कानाफूसी करने वाला नहीं वहां झगड़ा मिट जाता है। - नीतिवचन २६:२०


बाइबल पाठ: नीतिवचन २६:२०-२८

जैसे लकड़ी न होने से आग बुझती है, उसी प्रकार जहां कानाफूसी करने वाला नहीं वहां झगड़ा मिट जाता है।
जैसा अंगारों में कोयला और आग में लकड़ी होती है, वैसा ही झगड़े के बढ़ाने के लिये झगड़ालू होता है।
कानाफूसी करने वाले के वचन, स्वादिष्ट भोजन के समान भीतर उतर जाते हैं।
जैसा कोई चान्दी का पानी चढ़ाया हुआ मिट्टी का बर्तन हो, वैसा ही बुरे मन वाले के प्रेम भरे वचन होते हैं।
जो बैरी बात से तो अपने को भोला बनाता है, परन्तु अपने भीतर छल रखता है,
उसकी मीठी-मीठी बात प्रतीति न करना, क्योंकि उसके मन में सात घिनौनी वस्तुएं रहती हैं;
चाहे उसका बैर छल के कारण छिप भी जाए, तौभी उसकी बुराई सभा के बीच प्रगट हो जाएगी।
जो गड़हा खोदे, वही उसी में गिरेगा, और जो पत्थर लुढ़काए, वह उलट कर उसी पर लुढ़क आएगा।
जिस ने किसी को झूठी बातों से घायल किया हो वह उस से बैर रखता है, और चिकनी चुपड़ी बात बोलने वाला विनाश का कारण होता है।

एक साल में बाइबल:
  • दानियेल १, २
  • १ युहन्ना ५