बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Saturday, September 23, 2017

प्रेम


   मेरी सहेली ने मुझ से कहा, "वह तुम्हारे लिए बिल्कुल सही है"; वह एक ऐसे पुरुष के बारे में बात कर रही थी जिससे वह हाल ही में मिली थी। मेरी सहेली ने उस पुरुष की नम्र आँखों, उदार मुस्कुराहट, और दयालु हृदय का वर्णन किया। जब मैं उस पुरुष से मिली तो उसके विषय मुझे भी अपनी सहेली के साथ सहमत होना पड़ा। आज वह पुरुष मेरा पति है, और इसमें आश्चर्य की कोई बात नहीं है कि मैं उससे बहुत प्रेम करती हूँ।

   परमेश्वर के वचन बाइबल में, श्रेष्ठगीत नामक पुस्तक में, वधु अपने प्रेमी का वर्णन करती है। वह कहती है कि उसका प्रेम दाखमधु से भी श्रेष्ठ, और सुगन्धित द्रव्यों से भी अधिक सुगंधित है। उसका यही निष्कर्ष था कि इसलिए कोई आश्चर्य नहीं कि उससे प्रेम किया जाता है।

   परन्तु एक है जो किसी भी सांसारिक प्रिय जन से कहीं अधिक बढ़कर है; जिसका प्रेम भी दाखमधु से कहीं अधिक बढ़कर है। उसका प्रेम हमारी प्रत्येक आवश्यकता की तृप्ति करता है। उसकी सुगंध किसी भी सुगंधित द्रव्य से कहीं अधिक बेहतर है क्योंकि जब उसने अपने आप को हमारे लिए बलिदान किया, तो उसका यह बलिदान परमेश्वर के लिए एक मीठी सुगन्ध बन गया (इफिसियों 5:2)। और अन्ततः, उसका नाम सब नामों से श्रेष्ठ है: "इस कारण परमेश्वर ने उसको अति महान भी किया, और उसको वह नाम दिया जो सब नामों में श्रेष्ठ है" (फिलिप्पियों 2:9)। इसलिए इसमें कोई आश्चर्य नहीं कि संसार भर में उससे प्रेम किया जाता है, और हम भी उससे प्रेम करते हैं।

   प्रभु यीशु से प्रेम कर पाना एक सौभाग्य है; यह जीवन का सर्वोत्तम अनुभव है! लेकिन क्या हम यह बात प्रभु यीशु से कहने के लिए समय निकालते हैं? क्या हम अपने शब्दों से प्रभु यीशु की सुन्दरता का बखान करते हैं? यदि हमारे जीवन, हमारे प्रभु की सुन्दरता और गुणों का बखान करें, तो इसमें कोई आश्चर्य नहीं होगा कि लोग कहेंगे, इसमें कोई आश्चर्य नहीं कि आप उससे प्रेम करते हैं। - कीला ओकोआ


परमेश्वर का वचन हमारे प्रति उसके प्रेम को बताता है; 
हमारे शब्द उसके प्रति हमारे प्रेम को बताते हैं।

और प्रेम में चलो; जैसे मसीह ने भी तुम से प्रेम किया; और हमारे लिये अपने आप को सुखदायक सुगन्‍ध के लिये परमेश्वर के आगे भेंट कर के बलिदान कर दिया। - इफिसियों 5:2

बाइबल पाठ: श्रेष्ठगीत 1:1-4
Song of Solomon 1:1 श्रेष्टगीत जो सुलैमान का है।
Song of Solomon 1:2 वह अपने मुंह के चुम्बनों से मुझे चूमे! क्योंकि तेरा प्रेम दाखमधु से उत्तम है, 
Song of Solomon 1:3 तेरे भांति भांति के इत्रों का सुगन्ध उत्तम है, तेरा नाम उंडेले हुए इत्र के तुल्य है; इसीलिये कुमारियां तुझ से प्रेम रखती हैं 
Song of Solomon 1:4 मुझे खींच ले; हम तेरे पीछे दौड़ेंगे राजा मुझे अपने महल में ले आया है। हम तुझ में मगन और आनन्दित होंगे; हम दाखमधु से अधिक तेरे प्रेम की चर्चा करेंगे; वे ठीक ही तुझ से प्रेम रखती हैं।

एक साल में बाइबल: 
  • श्रेष्टगीत 1-3
  • गलतियों 2