बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Saturday, August 10, 2013

उत्तरदायित्व

   मेरे एक मित्र जैफ से उसकी पुत्री ने निवेदन किया कि वह उसके विवाह समारोह की सभी बातों की देखरेख और संचालन करे। यह उसके लिए बहुत आनन्द की बात थी और वे विवाह के लिए एक दूरगामी और अनुपम सुन्दर स्थल पर पहुँचे। लेकिन एक समस्या थी - क्योंकि विवाह में जाने वाले पारिवारिक सदस्य संख्या में थोड़े ही थे, जैफ को तीन भिन्न भूमिकाएं निभानी थीं, जो परस्पर टकराव की स्थिति उत्पन्न कर सकती थीं - विवाह की रस्म अदा करने वाला पास्टर, आमंत्रित मेहमानों का स्वागत करने वाला दुल्हन का पिता और विवाह समारोह की तस्वीरें उतारने वाला फोटोग्राफर।

   क्या कभी आपने ऐसा अनुभव किया है कि आप अनेक उत्तरदायित्वों को पूरा करने में लगे हैं और यह आपको थका दे रहा है? परमेश्वर के वचन बाइबल में एक ऐसी ही स्थिति का उल्लेख है - मूसा के ससुर जेथरो ने देखा कि मूसा को अनेक उत्तरदायित्वों को निभाना पड़ रहा है (निर्गमन 18)। मूसा को इस्त्राएलियों का नेतृत्व भी करना था, उनके व्यक्तिगत मामलों को सुलझाना भी होता था, गंभीर बातों की सुनवाई करके न्यायिक निर्णय भी देने होते थे, और क्योंकि इस्त्राएली संख्या में लाखों में थे, इसलिए मूसा के पास इन बातों के लिए लोगों की भीड़ लगी रहती थी। अन्ततः जेथरो ने मूसा से कहा: "और इस से तू क्या, वरन ये लोग भी जो तेरे संग हैं निश्चय हार जाएंगे, क्योंकि यह काम तेरे लिये बहुत भारी है; तू इसे अकेला नहीं कर सकता" (निर्गमन 18:18)। फिर उसने मूसा को बुद्धिमानी की सलाह दी कि वह अपनी ज़िम्मेदारियों का बंटवारा करे, अपने साथ अन्य योग्य लोगों को इन विवादों को सुलझाने के लिए नियुक्त करे जिससे छोटे या कम गंभीरता वाले विवाद तो वे सुलझा सकें और बड़ी तथा महत्वपूर्ण बातों एवं नेतृत्व के कार्य पर मूसा ध्यान दे सके (निर्गमन 18:21-23)।

   ऐसी परिस्थिति किसी के साथ भी हो सकती है - चाहे आप घर की देखभाल करने तथा छोटे बच्चों को संभालने वाली गृहणी हों, किसी व्यवासाय को संभालने वाले अतिश्रमित प्रबंधक, चर्च के कामों और उत्तरदायित्वों में लिप्त पास्टर, या कार्यों की ज़िम्मेदारियों से थकित एक सामन्य व्यक्ति। हम सभी मूसा और जेथरो से सबक ले सकते हैं। जैसा जेथरो ने मुसा से कहा, आप भी परमेश्वर से प्रार्थना करके अपने उत्तरदायित्वों का आँकलन कीजिए और चिन्हित कीजिए कि कौन से ऐसे कार्य हैं जिन्हें आप दूसरों को सौंप सकते हैं या करना बन्द भी कर सकते हैं। शारीरिक और मानसिक थकावट के साथ केवल काम-चलाऊ रीति से बहुत से कार्य करने से भला है कि बिना अनुचित रीति से थके भलि-भांति और उत्तम रीति से थोड़े से कार्य करे जाएं। कार्य करते करते थोड़े समय में थक कर निढाल और शिथिल हो जाने से भला है कि उतना ही कार्य किया जाए जिसमें शरीर तथा मन की स्फूर्ति तथा किए गए कार्य की गुणवन्ता बनी रह सके और लंबे समय तक उत्तम रीति से उत्तरदायित्व निभाए जा सकें। - डेनिस फिशर


यदि समय समय पर कार्य से अलग होकर उचित विश्राम नहीं करेंगे तो टूट कर बिखर जाएंगे।

यदि तू यह उपाय करे, और परमेश्वर तुझ को ऐसी आज्ञा दे, तो तू ठहर सकेगा, और ये सब लोग अपने स्थान को कुशल से पहुंच सकेंगें। - निर्गमन 18:23

बाइबल पाठ: निर्गमन 18:13-27
Exodus 18:13 दूसरे दिन मूसा लोगों का न्याय करने को बैठा, और भोर से सांझ तक लोग मूसा के आसपास खड़े रहे।
Exodus 18:14 यह देखकर कि मूसा लोगों के लिये क्या क्या करता है, उसके ससुर ने कहा, यह क्या काम है जो तू लोगों के लिये करता है? क्या कारण है कि तू अकेला बैठा रहता है, और लोग भोर से सांझ तक तेरे आसपास खड़े रहते हैं?
Exodus 18:15 मूसा ने अपने ससुर से कहा, इसका कारण यह है कि लोग मेरे पास परमेश्वर से पूछने आते है।
Exodus 18:16 जब जब उनका कोई मुकद्दमा होता है तब तब वे मेरे पास आते हैं और मैं उनके बीच न्याय करता, और परमेश्वर की विधि और व्यवस्था उन्हें जताता हूं।
Exodus 18:17 मूसा के ससुर ने उस से कहा, जो काम तू करता है वह अच्छा नहीं।
Exodus 18:18 और इस से तू क्या, वरन ये लोग भी जो तेरे संग हैं निश्चय हार जाएंगे, क्योंकि यह काम तेरे लिये बहुत भारी है; तू इसे अकेला नहीं कर सकता।
Exodus 18:19 इसलिये अब मेरी सुन ले, मैं तुझ को सम्मति देता हूं, और परमेश्वर तेरे संग रहे। तू तो इन लोगों के लिये परमेश्वर के सम्मुख जाया कर, और इनके मुकद्दमों को परमेश्वर के पास तू पहुंचा दिया कर।
Exodus 18:20 इन्हें विधि और व्यवस्था प्रगट कर कर के, जिस मार्ग पर इन्हें चलना, और जो जो काम इन्हें करना हो, वह इन को जता दिया कर।
Exodus 18:21 फिर तू इन सब लोगों में से ऐसे पुरूषों को छांट ले, जो गुणी, और परमेश्वर का भय मानने वाले, सच्चे, और अन्याय के लाभ से घृणा करने वाले हों; और उन को हज़ार-हज़ार, सौ-सौ, पचास-पचास, और दस-दस मनुष्यों पर प्रधान नियुक्त कर दे।
Exodus 18:22 और वे सब समय इन लोगों का न्याय किया करें; और सब बड़े बड़े मुकद्दमों को तो तेरे पास ले आया करें, और छोटे छोटे मुकद्दमों का न्याय आप ही किया करें; तब तेरा बोझ हलका होगा, क्योंकि इस बोझ को वे भी तेरे साथ उठाएंगे।
Exodus 18:23 यदि तू यह उपाय करे, और परमेश्वर तुझ को ऐसी आज्ञा दे, तो तू ठहर सकेगा, और ये सब लोग अपने स्थान को कुशल से पहुंच सकेंगें।
Exodus 18:24 अपने ससुर की यह बात मान कर मूसा ने उसके सब वचनों के अनुसार किया।
Exodus 18:25 सो उसने सब इस्त्राएलियों में से गुणी-गुणी पुरूष चुनकर उन्हें हज़ार-हज़ार, सौ-सौ, पचास-पचास, दस-दस, लोगों के ऊपर प्रधान ठहराया।
Exodus 18:26 और वे सब लोगों का न्याय करने लगे; जो मुकद्दमा कठिन होता उसे तो वे मूसा के पास ले आते थे, और सब छोटे मुकद्दमों का न्याय वे आप ही किया करते थे।
Exodus 18:27 और मूसा ने अपने ससुर को विदा किया, और उसने अपने देश का मार्ग लिया।

एक साल में बाइबल: 
  • भजन 79-80 
  • रोमियों 11:1-18