बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Sunday, January 26, 2014

स्वर्ग


   हाल ही के एक टीवी विज्ञापन में एक परिवार का दृश्य दिखाया गया जो कार में जा रहा है और दोपहर के भोजन के लिए उनमें विवाद चल रहा है। एक बच्चा कहता है कि उसे पिज़्ज़ा खाना है तो दूसरा कहता है कि उसे तो चिकन खाना है, तो माँ उनको शाँत रहने के लिए कहती और निर्णय देती है कि वे सब हैमबर्गर खाने के लिए रुकेंगे। तभी पिता इस समस्या का हल देते हुए एक भोजन स्थान का नाम लेकर कहता है कि हम भोजन के लिए वहाँ रुकेंगे और जिसे जो चाहिए, जितना चाहिए लेकर खा ले क्योंकि उस स्थान पर हर प्रकार का भोजन मिलता है।

   उस विज्ञापन को देखने के बाद मुझे एक और स्थान का स्मरण आया जहाँ पर सबकुछ मिलेगाम किसी को कोई कमी नहीं होगी - स्वर्ग। सबसे पहली बात तो यह कि स्वर्ग में हम परमेश्वर की उपस्थिति में होंगे, जैसा प्रेरित यूहन्ना ने बताया: "और फिर श्राप न होगा और परमेश्वर और मेम्ने का सिंहासन उस नगर में होगा, और उसके दास उस की सेवा करेंगे" (प्रकाशितवाक्य 22:3)। वहाँ परमेश्वर के सिंहासन से बहने वाली जीवन जल की नदी से सभी प्यासी आत्माओं की प्यास बुझ जाएगी (प्रकाशितवाक्य 22:1) क्योंकि परमेश्वर स्वयं उन्हें सेंत-मेंत जीवन का जल पीने को देगा (प्रकाशितवाक्य 21:6)। वहाँ पर जीवन का वृक्ष भी होगा जो सबकी चंगाई के लिए है (प्रकाशितवाक्य 22:2)।

   जो स्वर्ग में नहीं होगा वह है श्राप (प्रकाशितवाक्य 22:3), और साथ ही वहाँ मृत्यु, शोक और आँसु भी नहीं होंगे (प्रकाशितवाक्य 21:4)। हम सभी मसीही विश्वासी वहाँ अनन्तकाल तक एक आनन्द, परिपूर्णता और सन्तुष्टि का जीवन व्यतीत करेंगे। और यह सब हमें प्रभु यीशु से पापों की क्षमा माँग लेने और अपना जीवन उसे समर्पित कर देने के द्वारा परमेश्वर के अनुग्रह से सेंत-मेंत ही मिला है।

   क्या आप ने भी प्रभु यीशु को अपनाकर स्वर्ग की आशीषों को अपने लिए सुनिश्चित कर लिया है? - ऐनी सेटास


पृथ्वी - परीक्षाओं और परेशानियों का स्थान; स्वर्ग - अनन्त आनन्द और सन्तुष्ति का स्थान।

पर उस की प्रतिज्ञा के अनुसार हम एक नए आकाश और नई पृथ्वी की आस देखते हैं जिन में धामिर्कता वास करेगी। - 2 पतरस 3:13

बाइबल पाठ: प्रकाशितवाक्य 22:1-5
Revelation 22:1 फिर उसने मुझे बिल्लौर की सी झलकती हुई, जीवन के जल की एक नदी दिखाई, जो परमेश्वर और मेंम्ने के सिंहासन से निकल कर उस नगर की सड़क के बीचों बीच बहती थी। 
Revelation 22:2 और नदी के इस पार; और उस पार, जीवन का पेड़ था: उस में बारह प्रकार के फल लगते थे, और वह हर महीने फलता था; और उस पेड़ के पत्तों से जाति जाति के लोग चंगे होते थे। 
Revelation 22:3 और फिर श्राप न होगा और परमेश्वर और मेम्ने का सिंहासन उस नगर में होगा, और उसके दास उस की सेवा करेंगे। 
Revelation 22:4 और उसका मुंह देखेंगे, और उसका नाम उन के माथों पर लिखा हुआ होगा। 
Revelation 22:5 और फिर रात न होगी, और उन्हें दीपक और सूर्य के उजियाले का प्रयोजन न होगा, क्योंकि प्रभु परमेश्वर उन्हें उजियाला देगा: और वे युगानुयुग राज्य करेंगे।

एक साल में बाइबल: 
  • निर्गमन 35-37