बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Wednesday, December 14, 2016

विशिषिट जन्म


   परमेश्वर के वचन बाइबल के पृष्ठों में अनेकों बालकों के जन्म का उल्लेख है। कैन, सृष्टि के पश्चात जन्म लेने वाला पहला मानव। इसहाक, इस्त्राएल के भविष्य की आशा। शमूएल, एक माँ की लालसा के साथ की गई प्रार्थना का उत्तर। ये सभी, और इनके समान अन्य बालकों के जन्म बहुत महत्वपूर्ण थे; उन सभी के लिए आनन्दपूर्वक आशा रखी गई थी; और इन बालकों के जन्मों को पवित्रशास्त्र में दर्ज करने वाले लेखकों ने सभी के लिए एक ही समान बात लिखी है, कि उनकी माता गर्भवती हुई और बालक को जन्म दिया (उत्पत्ति 4:1; 21:2-3; 1 शमूएल 1:20)।

   अब बाइबल में दर्ज एक अन्य बालक, प्रभु यीशु मसीह, के जन्म के वर्णन पर ध्यान कीजिए। उस के आने के वर्णन में उस से संबंधित अनेकों बातों को बहुत विस्तार से लिखा गया है - केवल कुछ ही शब्द प्रभु यीशु के जन्म के बारे में बताने के लिए काफी नहीं थे; उस के जन्म के सैंकड़ों वर्ष पूर्व से ही उस के बारे में भविष्यवाणियाँ की गईं। मीका भविष्यद्वक्ता ने बताया कि वह बैतलहम में जन्म लेगा (मीका 5:2)। यशायाह भविष्यद्वक्ता ने लिखा कि वह कुँवारी से जन्म लेगा (यशायाह 7:14), और वह अपने लोगों को उनके पापों से छुड़ाने के लिए आएगा (यशायाह 53)।

   बाइबल के नए नियम खण्ड में उसके बारे में कुछ और आवश्यक जानकारी दी गई, जैसे कि कैसे उसे जन्म देने वाली माता और उसके दत्तक पिता परमेश्वर की योजना का भाग थे (मत्ती 1:16), जन्म के पश्चात उसका नाम क्या रखा जाना था और क्यों (मत्ती 1:21), वह भविष्यवाणी की पूर्ति के लिए कहाँ पैदा हुआ (मत्ती 2:6)।

   प्रभु यीशु का जन्म अन्य सभी बच्चों के जन्म से बढ़कर और भिन्न है; समस्त संसार के इतिहास में अभूतपूर्व तथा अति विशिष्ट है। उनके जन्म ने सारे संसार के इतिहास को दो भागों में बाँट दिया - ईसवीं पूर्व (BC) और ईसवीं पश्चात (AD)। उन के जन्म का उत्सव समस्त संसार के लिए है। - डेव ब्रैनन


मसीह यीशु समस्त मानव जाति के लिए परमेश्वर का सर्वोत्तम उपहार हैं।

क्योंकि हमारे लिये एक बालक उत्पन्न हुआ, हमें एक पुत्र दिया गया है; और प्रभुता उसके कांधे पर होगी, और उसका नाम अद्‌भुत, युक्ति करने वाला, पराक्रमी परमेश्वर, अनन्तकाल का पिता, और शान्ति का राजकुमार रखा जाएगा। उसकी प्रभुता सर्वदा बढ़ती रहेगी, और उसकी शान्ति का अन्त न होगा, इसलिये वे उसको दाऊद की राजगद्दी पर इस समय से ले कर सर्वदा के लिये न्याय और धर्म के द्वारा स्थिर किए ओर संभाले रहेगा। सेनाओं के यहोवा की धुन के द्वारा यह हो जाएगा। - यशायाह 9:6-7

बाइबल पाठ: मत्ती 2:1-15
Matthew 2:1 हेरोदेस राजा के दिनों में जब यहूदिया के बैतलहम में यीशु का जन्म हुआ, तो देखो, पूर्व से कई ज्योतिषी यरूशलेम में आकर पूछने लगे। 
Matthew 2:2 कि यहूदियों का राजा जिस का जन्म हुआ है, कहां है? क्योंकि हम ने पूर्व में उसका तारा देखा है और उसको प्रणाम करने आए हैं। 
Matthew 2:3 यह सुनकर हेरोदेस राजा और उसके साथ सारा यरूशलेम घबरा गया। 
Matthew 2:4 और उसने लोगों के सब महायाजकों और शास्‍त्रियों को इकट्ठे कर के उन से पूछा, कि मसीह का जन्म कहाँ होना चाहिए? 
Matthew 2:5 उन्होंने उस से कहा, यहूदिया के बैतलहम में; क्योंकि भविष्यद्वक्ता के द्वारा यों लिखा है। 
Matthew 2:6 कि हे बैतलहम, जो यहूदा के देश में है, तू किसी रीति से यहूदा के अधिकारियों में सब से छोटा नहीं; क्योंकि तुझ में से एक अधिपति निकलेगा, जो मेरी प्रजा इस्राएल की रखवाली करेगा। 
Matthew 2:7 तब हेरोदेस ने ज्योतिषियों को चुपके से बुलाकर उन से पूछा, कि तारा ठीक किस समय दिखाई दिया था। 
Matthew 2:8 और उसने यह कहकर उन्हें बैतलहम भेजा, कि जा कर उस बालक के विषय में ठीक ठीक मालूम करो और जब वह मिल जाए तो मुझे समाचार दो ताकि मैं भी आकर उसको प्रणाम करूं। 
Matthew 2:9 वे राजा की बात सुनकर चले गए, और देखो, जो तारा उन्होंने पूर्व में देखा था, वह उन के आगे आगे चला, और जंहा बालक था, उस जगह के ऊपर पंहुचकर ठहर गया।
Matthew 2:10 उस तारे को देखकर वे अति आनन्‍दित हुए। 
Matthew 2:11 और उस घर में पहुंचकर उस बालक को उस की माता मरियम के साथ देखा, और मुंह के बल गिरकर उसे प्रणाम किया; और अपना अपना थैला खोल कर उसे सोना, और लोहबान, और गन्‍धरस की भेंट चढ़ाई। 
Matthew 2:12 और स्‍वप्‍न में यह चितौनी पाकर कि हेरोदेस के पास फिर न जाना, वे दूसरे मार्ग से हो कर अपने देश को चले गए।
Matthew 2:13 उन के चले जाने के बाद देखो, प्रभु के एक दूत ने स्‍वप्‍न में यूसुफ को दिखाई देकर कहा, उठ; उस बालक को और उस की माता को ले कर मिस्र देश को भाग जा; और जब तक मैं तुझ से न कहूं, तब तक वहीं रहना; क्योंकि हेरोदेस इस बालक को ढूंढ़ने पर है कि उसे मरवा डाले। 
Matthew 2:14 वह रात ही को उठ कर बालक और उस की माता को ले कर मिस्र को चल दिया। 
Matthew 2:15 और हेरोदेस के मरने तक वहीं रहा; इसलिये कि वह वचन जो प्रभु ने भविष्यद्वक्ता के द्वारा कहा था कि मैं ने अपने पुत्र को मिस्र से बुलाया पूरा हो। 

एक साल में बाइबल: 
  • योएल 1-3
  • प्रकाशितवाक्य 5