बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Thursday, November 16, 2017

संघर्ष


   अप्रैल 25, 2015 ANZAC (Australia New Zealand Army Corps) का 100वाँ स्थापना दिवस था। इस दिन को प्रतिवर्ष ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैण्ड की सेनाएँ मिलकर मनाती हैं, अपने उन सैनिकों की याद में जिन्होंने प्रथम विश्व-युद्ध साझा सेना के रूप में लड़ा था। यह उस समय को दिखाता है जब दोनों में से किसी भी देश को युद्ध के जोखिम अकेले उठाने नहीं पड़े थे; दोनों देशों के सैनिक संघर्षों में साथ-साथ थे।

   प्रभु यीशु मसीह के अनुयायियों को भी जीवन के संघर्षों में एक दूसरे के साथ खड़ा होने के लिए कहा गया है। जैसे कि पौलुस ने कहा, "तुम एक दूसरे के भार उठाओ, और इस प्रकार मसीह की व्यवस्था को पूरी करो" (गलतियों 6:2)। जब कठिन समय आएँ तो जीवन के संघर्षों में एक साथ खड़े होने तथा मिलकर कार्य करने से हम एक दूसरे को सामर्थ्य एवं सहायता प्रदान कर सकते हैं। जब हम एक दूसरे के प्रति मसीह के प्रेम और देख-भाल को व्यक्त करते हैं, तो जीवन की कठिनाइयाँ हमें मसीह यीशु और एक दुसरे के निकट लाने वाली बन जाती हैं - न कि हमें एक दुसरे से अलग कर देने वाली।

   औरों के संघर्षों को परस्पर बाँटने के द्वारा हम प्रभु यीशु के प्रेम के नमूने को व्यावाहरिक करते हैं। परमेश्वर के वचन बाइबल में यशायाह भविष्यद्वक्ता ने प्रभु के विषय में जो कहा उसे मत्ती ने उद्धृत किया: "ताकि जो वचन यशायाह भविष्यद्वक्ता के द्वारा कहा गया था वह पूरा हो, कि उसने आप हमारी दुर्बलताओं को ले लिया और हमारी बीमारियों को उठा लिया" (मत्ती 8:17)। हमारे संघर्ष चाहे कितने भी बड़े क्यों न हों, हमें कभी अकेले उनका सामना करने की आवश्यकता नहीं होनी चाहिए। - बिल क्राउडर


हम एक साथ मिलकर अकेले से कहीं अधिक दूरी तक जा सकते हैं।

निदान हम बलवानों को चाहिए, कि निर्बलों की निर्बलताओं को सहें; न कि अपने आप को प्रसन्न करें। - रोमियों 15:1

बाइबल पाठ: गलतियों 6:1-10
Galatians 6:1 हे भाइयों, यदि कोई मनुष्य किसी अपराध में पकड़ा भी जाए, तो तुम जो आत्मिक हो, नम्रता के साथ ऐसे को संभालो, और अपनी भी चौकसी रखो, कि तुम भी परीक्षा में न पड़ो। 
Galatians 6:2 तुम एक दूसरे के भार उठाओ, और इस प्रकार मसीह की व्यवस्था को पूरी करो। 
Galatians 6:3 क्योंकि यदि कोई कुछ न होने पर भी अपने आप को कुछ समझता है, तो अपने आप को धोखा देता है। 
Galatians 6:4 पर हर एक अपने ही काम को जांच ले, और तब दूसरे के विषय में नहीं परन्तु अपने ही विषय में उसको घमण्‍ड करने का अवसर होगा। 
Galatians 6:5 क्योंकि हर एक व्यक्ति अपना ही बोझ उठाएगा।
Galatians 6:6 जो वचन की शिक्षा पाता है, वह सब अच्छी वस्‍तुओं में सिखाने वाले को भागी करे। 
Galatians 6:7 धोखा न खाओ, परमेश्वर ठट्ठों में नहीं उड़ाया जाता, क्योंकि मनुष्य जो कुछ बोता है, वही काटेगा। 
Galatians 6:8 क्योंकि जो अपने शरीर के लिये बोता है, वह शरीर के द्वारा विनाश की कटनी काटेगा; और जो आत्मा के लिये बोता है, वह आत्मा के द्वारा अनन्त जीवन की कटनी काटेगा। 
Galatians 6:9 हम भले काम करने में हियाव न छोड़े, क्योंकि यदि हम ढीले न हों, तो ठीक समय पर कटनी काटेंगे। 
Galatians 6:10 इसलिये जहां तक अवसर मिले हम सब के साथ भलाई करें; विशेष कर के विश्वासी भाइयों के साथ।

एक साल में बाइबल: 
  • यहेजकेल 3-4
  • इब्रानियों 11:20-40