बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Saturday, September 22, 2018

द्वार.



      जब आप सँसार के कुछ महान शहरों में प्रवेश करते हैं तो आपको कुछ प्रसिद्ध द्वार मिलते हैं, जैसे के बर्लिन का ब्रैंडेनबर्ग द्वार, यरूशलेम का जाफ़ा द्वार, लंडन की डाउनिंग स्ट्रीट के द्वार, इत्यादि। वे द्वारा चाहे सुरक्षा या फिर औपचारिकता के लिए बनाए गए हों, वे सभी शहर के कुछ क्षेत्रों के अन्दर या उनसे बाहर होने को दिखाते हैं। कुछ द्वार खुले होते हैं, और कुछ अधिकांश लोगों के लिए बन्द होते हैं।

      प्रभु यीशु मसीह के बलिदान और पुनरुत्थान के द्वारा, अब परमेश्वर की उपस्थिति में सभी के आने का द्वार सदा खुला रहता है। परमेश्वर के वचन बाइबल में भजन 100 का परिचित गीत इस्राएलियों के लिए मंदिर के द्वार से होकर परमेश्वर की उपस्थिति में आने का निमंत्रण है। उन्हें कहा गया कि वे प्रवेश करते समय “जयजयकार” करें और “जयजयकार के साथ उसके सम्मुख आएँ” (पद 1-2)।

      आनन्द से जयजयकार करना प्राचीन विश्व में महाराजा का अभिवादन करने के लिए प्रथा थी। इसीलिए भजन में लिखा है कि सारी पृथ्वी परमेश्वर के लिए जयजयकार के साथ गाए! उनके इस आनन्द का कारण उन्हें परमेश्वर से मिली पहचान था (पद 3)। उन्हें उसके फाटकों में प्रशंसा और धन्यवाद के साथ प्रवेश करना था पीढ़ी से पीढ़ी तक बनी रहने वाली परमेश्वर की भलाई और करुणा और सच्चाई के लिए (पद 4-5)। वे चाहे परमेश्वर से मिली अपनी पहचान को छोड़कर इधर-उधर भटक भी गए, परमेश्वर से दूर भी चले गए, फिर भी परमेश्वर उनके प्रति वफादार बना रहा, और उन्हें फिर से अपने सम्मुख आने का निमत्रण दिया।

      आज सारे सँसार के सभी लोगों के लिए प्रभु यीशु के मारे जाने, गाड़े जाने और तीसरे दिन मृतकों में से जी उठने के द्वारा पापों की क्षमा और उद्धार पाने तथा परमेश्वर की उपस्थिति में आने का द्वारा खुला है, सारे सँसार के सभी लोगों को परमेश्वर का निमंत्रण है कि वे समय रहते इस अवसर का सदुपयोग कर लें, और आनन्द के साथ परलोक में अपना अनन्तकाल उसकी उपस्थिति में मनाएँ। - मारविन विलियम्स

प्रभु यीशु में होकर परमेश्वर की उपस्थिति में आने का द्वार सबके लिए खुला है।

द्वार मैं हूं: यदि कोई मेरे द्वारा भीतर प्रवेश करे तो उद्धार पाएगा और भीतर बाहर आया जाया करेगा और चारा पाएगा। - यूहन्ना 10:9

बाइबल पाठ: भजन 100
Psalms 100:1 हे सारी पृथ्वी के लोगों यहोवा का जयजयकार करो!
Psalms 100:2 आनन्द से यहोवा की आराधना करो! जयजयकार के साथ उसके सम्मुख आओ!
Psalms 100:3 निश्चय जानो, कि यहोवा ही परमेश्वर है। उसी ने हम को बनाया, और हम उसी के हैं; हम उसकी प्रजा, और उसकी चराई की भेड़ें हैं।
Psalms 100:4 उसके फाटकों से धन्यवाद, और उसके आंगनों में स्तुति करते हुए प्रवेश करो, उसका धन्यवाद करो, और उसके नाम को धन्य कहो!
Psalms 100:5 क्योंकि यहोवा भला है, उसकी करूणा सदा के लिये, और उसकी सच्चाई पीढ़ी से पीढ़ी तक बनी रहती है।


एक साल में बाइबल: 
  • सभोपदेशक 10-12
  • गलतियों 1