बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Tuesday, September 24, 2019

निवास-स्थान



      मेरा पालन-पोषण अमेरिका के मिनिसोटा प्रदेश में हुआ, जो अपनी अनेकों सुन्दर झीलों के लिए प्रसिद्ध है। परमेश्वर की उस अनुपम सृष्टि की सुन्दरता का आनन्द लेने के लिए हम खुले इलाकों में कैम्पिंग के लिए जाया करते थे, परन्तु पतले कपड़े से बने तम्बुओं में सोना मुझे पसन्द नहीं था, विशेषकर तब जब बारिश हो और रिस कर तम्बू में आया पानी सारे स्लीपिंग बैग या बिस्तर को गीला कर दे।

      इसलिए मुझे अचरज होता है कि परमेश्वर के वचन बाइबल में विश्वास के एक नायक अब्राहम ने लगभग सौ वर्ष तम्बुओं में बिताए। जब अब्राहम की आयु पचहत्तर वर्ष की थी तब उसने परमेश्वर की बुलाहट को सुना, कि वो अपने देश को छोड़कर उस स्थान को जाए जहाँ पर परमेश्वर उसे आशीषित करेगा और उससे एक बड़ी जाति बनाएगा (उत्पत्ति 12:1-2)। अब्राहम ने परमेश्वर की बात पर विश्वास किया, उसकी आज्ञाकारिता में अपने घर और देश से अनजाने स्थान की ओर निकल पड़ा, इस विश्वास के साथ कि परमेश्वर अपनी कही हुई बात को पूरा भी करेगा। और अपने शेष जीवन भर, जब तक कि वह एक सौ पचहत्तर वर्ष की आयु में मर नहीं गया (25:7), वह अपने देश से दूर, तम्बुओं में ही निवास करता रहा।

      आज हमारी वह बुलाहट चाहे न हो जो अब्राहम की थी, कि वह खानाबदोशों का जीवन जीए, परन्तु जब हम इस सँसार और उसके लोगों के मध्य रहते और सेवा करते हैं, उनसे प्रेम करते हैं, तो हमें भी अपने किसी स्थाई निवास-स्थान की लालसा हो सकती है, जिसके साथ हम अपने आप को जुड़ा हुआ अनुभव कर सकें। जब कठिन परिस्थितियाँ और परेशानियां हमारे ‘तम्बुओं’ में दिक्कतें पैदा करें, तो अब्राहम के समान ही हम भी विश्वास के साथ अपने उस स्थाई निवास-स्थान की ओर देखें जिसका “बनानेवाला परमेश्वर है” (इब्रानियों 11:10)। और अब्राहम के समान ही, हम भी उस आशा पर भरोसा बनाए रखें कि परमेश्वर अपनी सृष्टि को नया कर रहा है, प्रभु यीशु मसीह में विश्वास द्वारा उसकी सन्तान बने हुओं के लिए एक उत्तम और स्वर्गीय निवास-स्थान  तैयार कर रहा है। - एमी बाउचर पाई

परमेश्वर हमारे जीवनों के लिए हमें दृढ़ आधार देता है।

तुम्हारा मन व्याकुल न हो, तुम परमेश्वर पर विश्वास रखते हो मुझ पर भी विश्वास रखो। मेरे पिता के घर में बहुत से रहने के स्थान हैं, यदि न होते, तो मैं तुम से कह देता क्योंकि मैं तुम्हारे लिये जगह तैयार करने जाता हूं। - यूहन्ना 14:1-2

बाइबल पाठ: उत्पत्ति 12:4-9; इब्रानियों 11:8-12
Genesis 12:4 यहोवा के इस वचन के अनुसार अब्राम चला; और लूत भी उसके संग चला; और जब अब्राम हारान देश से निकला उस समय वह पचहत्तर वर्ष का था।
Genesis 12:5 सो अब्राम अपनी पत्नी सारै, और अपने भतीजे लूत को, और जो धन उन्होंने इकट्ठा किया था, और जो प्राणी उन्होंने हारान में प्राप्त किए थे, सब को ले कर कनान देश में जाने को निकल चला; और वे कनान देश में आ भी गए।
Genesis 12:6 उस देश के बीच से जाते हुए अब्राम शकेम में, जहां मोरे का बांज वृक्ष है, पंहुचा; उस समय उस देश में कनानी लोग रहते थे।
Genesis 12:7 तब यहोवा ने अब्राम को दर्शन देकर कहा, यह देश मैं तेरे वंश को दूंगा: और उसने वहां यहोवा के लिये जिसने उसे दर्शन दिया था, एक वेदी बनाई।
Genesis 12:8 फिर वहां से कूच कर के, वह उस पहाड़ पर आया, जो बेतेल के पूर्व की ओर है; और अपना तम्बू उस स्थान में खड़ा किया जिसकी पच्छिम की ओर तो बेतेल, और पूर्व की ओर ऐ है; और वहां भी उसने यहोवा के लिये एक वेदी बनाई: और यहोवा से प्रार्थना की
Genesis 12:9 और अब्राम कूच कर के दक्खिन देश की ओर चला गया।

Hebrews 11:8 विश्वास ही से इब्राहीम जब बुलाया गया तो आज्ञा मानकर ऐसी जगह निकल गया जिसे मीरास में लेने वाला था, और यह न जानता था, कि मैं किधर जाता हूं; तौभी निकल गया।
Hebrews 11:9 विश्वास ही से उसने प्रतिज्ञा किए हुए देश में जैसे पराए देश में परदेशी रह कर इसहाक और याकूब समेत जो उसके साथ उसी प्रतिज्ञा के वारिस थे, तम्बूओं में वास किया।
Hebrews 11:10 क्योंकि वह उस स्थिर नेव वाले नगर की बाट जोहता था, जिस का रचने वाला और बनाने वाला परमेश्वर है।
Hebrews 11:11 विश्वास से सारा ने आप बूढ़ी होने पर भी गर्भ धारण करने की सामर्थ पाई; क्योंकि उसने प्रतिज्ञा करने वाले को सच्चा जाना था।
Hebrews 11:12 इस कारण एक ही जन से जो मरा हुआ सा था, आकाश के तारों और समुद्र के तीर के बालू की नाईं, अनगिनित वंश उत्पन्न हुआ।

एक साल में बाइबल: 
  • श्रेष्ठगीत 4-5
  • गलातियों 3