बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Tuesday, November 22, 2011

अगला प्रयास सर्वोत्तम होगा

   मैं जब भी गोल्फ खेलता हूँ तो गलतियाँ करता हूँ, क्योंकि मैं इसे इतना नहीं खेलता कि इसकी सभी बारीकियाँ समझ सकूँ और अपने खेल के स्तर को सुधार सकूँ। जब खेलता हूँ तो कभी गेंद गन्तव्य स्थान की बजाए कहीं और जा गिरती है, कभी निकट बहते किसी पानी की नाले में जा पड़ती है तो कभी बाईं ओर जाने की बजाए दाहिनी ओर घूम जाती है।

   इसलिए मुझे ग्रांटलैंड राइस द्वारा अपनी पुस्तक The Tumult and the Shouting में लिखे ये शब्द पसन्द हैं: "गोल्फ एक ऐसा खेल है जो एक साधारण सी बात - बल्ला घुमा कर गेंद को मारना, में  मनुष्य द्वारा होने वाली अनेक गलतियों और खामियों को प्रगट कर देता है, इसलिए खेलने वाले को यह खेल जितना कष्ट देता है और कुण्ठित करता है, शायद अन्य कोई नहीं करता। जितनी शीघ्र गोल्फ का खिलाड़ी अपने खेल के बिगड़े हुए प्रयास को भूल कर अगले प्रयास की तैयारी में लग जाए उतना ही उसके लिए लाभदायी और उस के खेल को सुधारने में सहायक होगा और उसे अपने खेल में आनन्द ले पाने में सक्षम करेगा। बिती गलतियों पर मन लगा कर पछतावे के साथ बैठे रहने से कुछ हासिल नहीं होता।" फिर राइस ने आगे लिखा, "गोल्फ में अगला प्रयास ही सर्वोत्तम प्रयास होता है।"

   परमेश्वर के वचन बाइबल में फिलिप्पियों को लिखी अपनी पत्री के तीसरे अध्याय में प्रेरित पौलुस ने भी अपने पाठकों को लगभग यही सलाह दी। उसने कहा कि मसीही विश्वास के जीवन में आगे बढ़ने का गुर है अपनी आँखें अपने निशाने पर गड़ाए रखना और आगे बढ़ने के प्रयास में लगे रहना। यदि हम पीछे की ओर मुड़कर देखने लगेंगे और अपनी गलतियों के बारे में सोचते रहेंगे तो शीघ्र ही निराशाओं में घिर जाएंगे।

   जब पाप हमें गिरा दे, या किसी असफलता के कारण कोई निराशा हमें घेर ले तो बाहर निकलने का सीधा सा मार्ग है - उसे परमेश्वर के सामने मान लें, उससे क्षमा माँग लें और उसकी दी गई क्षमा पर विश्वास करके तथा उस पाप अथवा असफलता पर बैठे रहने की बजाए उस को अपने पीछे करके फिर आगे की ओर बढ़ना आरंभ कर दें।

   गोल्फ के समान, मसीही विश्वास के जीवन में भी अगला प्रयास ही सर्वोत्तम प्रयास होता है। - डेव एग्नर


हमें कभी विफलता को अपनी सफलता छीनने नहीं देनी चाहिए।

हे भाइयों, मेरी भावना यह नहीं कि मैं पकड़ चुका हूं: परन्‍तु केवल यह एक काम करता हूं, कि जो बातें पीछे रह गई हैं उन को भूल कर, आगे की बातों की ओर बढ़ता हुआ निशाने की ओर दौड़ा चला जाता हूं, ताकि वह इनाम पाऊं, जिस के लिये परमेश्वर ने मुझे मसीह यीशु में ऊपर बुलाया है। - फिलिप्पियों ३:१३, १४

बाइबल पाठ: फिलिप्पियों ३:१२-१६
    Php 3:12  यह मतलब नहीं, कि मैं पा चुका हूं, या सिद्ध हो चुका हूं: पर उस पदार्थ को पकड़ने के लिये दौड़ा चला जाता हूं, जिस के लिये मसीह यीशु ने मुझे पकड़ा था।
    Php 3:13  हे भाइयों, मेरी भावना यह नहीं कि मैं पकड़ चुका हूं: परन्‍तु केवल यह एक काम करता हूं, कि जो बातें पीछे रह गई हैं उन को भूल कर, आगे की बातों की ओर बढ़ता हुआ।
    Php 3:14  निशाने की ओर दौड़ा चला जाता हूं, ताकि वह इनाम पाऊं, जिस के लिये परमेश्वर ने मुझे मसीह यीशु में ऊपर बुलाया है।
    Php 3:15  सो हम में से जितने सिद्ध हैं, यही विचार रखें, और यदि किसी बात में तुम्हारा और ही विचार हो तो परमेश्वर उसे भी तुम पर प्रगट कर देगा।
    Php 3:16  सो जहां तक हम पहुंचे हैं, उसी के अनुसार चलें।
 
एक साल में बाइबल: 
  • यहेजकेल १८-१७ 
  • याकूब ४