बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Saturday, August 20, 2016

बुनियाद


   जर्मनी के बावेरिया प्रांत में स्थित नॉर्डलिंगन शहर अद्वितीय है क्योंकि वह एक विशाल गोलाकार गढ्ढे में स्थित है। बहुत वर्ष पहले यह गढ्ढा एक उलका-पिण्ड के टकराव से बना था। उस टकराव से इतना अधिक दबाव और गर्मी उत्पन्न हुई कि वहाँ की चट्टानें रवेदार हो गईं और वहाँ अनगिनित सूक्षम हीरे बन गए। 13वीं शताब्दी में उन रवेदार चट्टानों और सूक्षम हीरों से जड़े पत्थरों से वहाँ का सेंट जॉर्ज चर्च बनाया गया। आज भी उस चर्च को देखने के लिए आने वाले उसकी दीवारों और बुनियाद में उन पत्थरों में बने सुन्दर मणियों और रत्नों को देख सकते हैं, और उन्हें देखकर कुछ लोग यह भी कहते हैं कि उस चर्च की बुनियाद अलौकिक है।

   परमेश्वर का वचन, बाइबल, हम मसीही विश्वासियों की एक अन्य अलौकिक बुनियाद के बारे में भी बताती है - प्रभु यीशु मसीह। प्रभु यीशु स्मस्त मानव-जाति के उद्धार के लिए स्वर्ग से उतरकर आए (यूहन्ना 3:13) और अपने बलिदान, पुनरुत्थान और स्वर्गारोहण के पश्चात वापस स्वर्ग को लौट गए; लेकिन पृथ्वी पर अपने अनुयायियों को, जिन्हें बाइबल में परमेश्वर का "जीवित मन्दिर" भी कहा जाता है, अपने कार्य को आगे बढ़ाने के लिए छोड़ गए; और इस जीवित मन्दिर की वे स्वयं ही बुनियाद हैं। प्रेरित पौलुस ने इस बुनियाद के विषय में लिखा, "क्योंकि उस नेव को छोड़ जो पड़ी है, और वह यीशु मसीह है कोई दूसरी नेव नहीं डाल सकता" (1 कुरिन्थियों 3:11)।

   बावेरिया में बना वह भौतिक चर्च भवन की बुनियाद और निर्माण पृथ्वी के पत्थरों से है; परन्तु वह आत्मिक चर्च - अर्थात सभी मसीही विश्वासियों का समूह, सर्वश्रेष्ठ एवं सर्वोत्तम स्वर्गीय बुनियाद - प्रभु यीशु मसीह पर स्थापित है, और उसके निर्माण के लिए परमेश्वर हम मसीही विश्वासियों को प्रयोग कर रहा है (यशायाह 28:16; 1 कुरिन्थियों 10:3-4)।

   परमेश्वर की स्तुति एवं प्रशंसा हो कि जो कार्य हमारे उद्धार के लिए प्रभु यीशु ने पूरा कर के दे दिया है, उसके कारण हमारा उद्धार अनन्तकाल के लिए सुदृढ़ और सुरक्षित है। - डेनिस फिशर


हमारे विश्वास की चट्टान, मसीह यीशु ही हमारी दृढ़ आशा है।

इसलिये तुम अब विदेशी और मुसाफिर नहीं रहे, परन्तु पवित्र लोगों के संगी स्‍वदेशी और परमेश्वर के घराने के हो गए। और प्रेरितों और भविष्यद्वक्ताओं की नेव पर जिसके कोने का पत्थर मसीह यीशु आप ही है, बनाए गए हो। जिस में सारी रचना एक साथ मिलकर प्रभु में एक पवित्र मन्दिर बनती जाती है। जिस में तुम भी आत्मा के द्वारा परमेश्वर का निवास स्थान होने के लिये एक साथ बनाए जाते हो। - इफिसियों 2:19-22

बाइबल पाठ: 1 कुरिन्थियों 3:1-11
1 Corinthians 3:1 हे भाइयों, मैं तुम से इस रीति से बातें न कर सका, जैसे आत्मिक लोगों से; परन्तु जैसे शारीरिक लोगों से, और उन से जो मसीह में बालक हैं। 
1 Corinthians 3:2 मैं ने तुम्हें दूध पिलाया, अन्न न खिलाया; क्योंकि तुम उसको न खा सकते थे; वरन अब तक भी नहीं खा सकते हो। 
1 Corinthians 3:3 क्योंकि अब तक शारीरिक हो, इसलिये, कि जब तुम में डाह और झगड़ा है, तो क्या तुम शारीरिक नहीं? और मनुष्य की रीति पर नहीं चलते? 
1 Corinthians 3:4 इसलिये कि जब एक कहता है, कि मैं पौलुस का हूं, और दूसरा कि मैं अपुल्लोस का हूं, तो क्या तुम मनुष्य नहीं? 
1 Corinthians 3:5 अपुल्लोस क्या है? और पौलुस क्या है? केवल सेवक, जिन के द्वारा तुम ने विश्वास किया, जैसा हर एक को प्रभु ने दिया। 
1 Corinthians 3:6 मैं ने लगाया, अपुल्लोस ने सींचा, परन्तु परमेश्वर ने बढ़ाया। 
1 Corinthians 3:7 इसलिये न तो लगाने वाला कुछ है, और न सींचने वाला, परन्तु परमेश्वर जो बढ़ाने वाला है। 
1 Corinthians 3:8 लगाने वाला और सींचने वाला दानों एक हैं; परन्तु हर एक व्यक्ति अपने ही परिश्रम के अनुसार अपनी ही मजदूरी पाएगा। 
1 Corinthians 3:9 क्योंकि हम परमेश्वर के सहकर्मी हैं; तुम परमेश्वर की खेती और परमेश्वर की रचना हो। 
1 Corinthians 3:10 परमेश्वर के उस अनुग्रह के अनुसार, जो मुझे दिया गया, मैं ने बुद्धिमान राजमिस्री की नाईं नेव डाली, और दूसरा उस पर रद्दा रखता है; परन्तु हर एक मनुष्य चौकस रहे, कि वह उस पर कैसा रद्दा रखता है। 
1 Corinthians 3:11 क्योंकि उस नेव को छोड़ जो पड़ी है, और वह यीशु मसीह है कोई दूसरी नेव नहीं डाल सकता।

एक साल में बाइबल: 
  • भजन 105-106
  • 1 कुरिन्थियों 3