बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, January 6, 2020

भेंट



      लेखक ओ. हेनरी की विख्यात लघु कथा, “द गिफ्ट ऑफ़ द मैगी” के प्रमुख पात्र – एक युवा दंपत्ति जिम और डेला निर्धन थे, किन्तु उस क्रिसमस के समय वे एक दूसरे को कोई बहुत अनुपम भेंट देना चाहते थे। डेला के बहुत लंबे और सुन्दर बाल थे, और जिम के पास उसके दादा के समय से परिवार में चली आ रही एक घड़ी थी, जिसे कलाई पर बाँधने के लिए जिम के पास उपयुक्त चेन नहीं थी। एक दूसरे को बताए बिना, एक दूसरे को उत्तम भेंट देने के लिए पैसे जुटाने के लिए, डेला ने अपने बाल कटवा कर बेच दिए और जिम के लिए चेन खरीद ली; और जिम ने अपनी घड़ी बेचकर डेला के बालों के लिए सुन्दर तथा महंगे कंघों को खरीद लिया।

      अब उस क्रिसमस की प्रातः उनके पास प्रेम और प्रेम की अभिव्यक्ति के लिए अच्छी भेंट तो थीं, किन्तु उन भेंटों की उपयोगिता नहीं थी। परन्तु उनके इस प्रेम भाव ने उन्हें भेंट देने वालों में सबसे उत्तम बना दिया था।

      परमेश्वर के वचन बाइबल के प्रभु यीशु के जन्म की घटनाओं में हम कुछ लोगों (मैगी) को देखते हैं जो बहुमूल्य भेंटें, सोना, मुर्र, और लोबान, लेकर संसार के उद्धारकर्ता प्रभु यीशु के जन्म के समय उसके दर्शन के लिए आए थे (मत्ती 2:11)। ये लोग यहूदी नहीं थे; ये बाहरी, या अन्यजाति थे, और उन्हें इस बात का आभास भी नहीं था कि यरूशलेम आकर नए जन्मे हुए यहूदियों के राजा के विषय पूछताछ करने के द्वारा वे वहाँ पर कितनी उथल-पुथल मचा देंगे (पद 2)।

      जैसा कि जिम और डेला की योजनाओं के साथ हुआ, उन मैगी की योजनाएं भी अपेक्षा के अनुसार नहीं रहीं। परन्तु उन्होंने भी वह दिया जो धन से कभी खरीदा नहीं जा सकता है; वे भौतिक भेंटों के साथ तो आए थे, परन्तु उन्होंने प्रभु यीशु को आराधना भी चढ़ाई; उस प्रभु को जो अपने आप को संसार के सभी लोगों के लिए, उनमें लाए गए विश्वास द्वारा पापों की क्षमा तथा उद्धार को भेंट स्वरूप देने के लिए आया था। प्रभु परमेश्वर की यह भेंट समस्त संसार के सभी लोगों के लिए है; बस उसे स्वेच्छा से ग्रहण करने की आवश्यकता है। - मार्ट डीहान

परमेश्वर के अनुग्रह की भेंट अमूल्य है।

क्योंकि विश्वास के द्वारा अनुग्रह ही से तुम्हारा उद्धार हुआ है, और यह तुम्हारी ओर से नहीं, वरन परमेश्वर का दान है। और न कर्मों के कारण, ऐसा न हो कि कोई घमण्‍ड करे। - इफिसियों 2:8-9

बाइबल पाठ: मत्ती 2:1-12
Matthew 2:1 हेरोदेस राजा के दिनों में जब यहूदिया के बैतलहम में यीशु का जन्म हुआ, तो देखो, पूर्व से कई ज्योतिषी यरूशलेम में आकर पूछने लगे।
Matthew 2:2 कि यहूदियों का राजा जिस का जन्म हुआ है, कहां है? क्योंकि हम ने पूर्व में उसका तारा देखा है और उसको प्रणाम करने आए हैं।
Matthew 2:3 यह सुनकर हेरोदेस राजा और उसके साथ सारा यरूशलेम घबरा गया।
Matthew 2:4 और उसने लोगों के सब महायाजकों और शास्‍त्रियों को इकट्ठे कर के उन से पूछा, कि मसीह का जन्म कहाँ होना चाहिए?
Matthew 2:5 उन्होंने उस से कहा, यहूदिया के बैतलहम में; क्योंकि भविष्यद्वक्ता के द्वारा यों लिखा है।
Matthew 2:6 कि हे बैतलहम, जो यहूदा के देश में है, तू किसी रीति से यहूदा के अधिकारियों में सब से छोटा नहीं; क्योंकि तुझ में से एक अधिपति निकलेगा, जो मेरी प्रजा इस्राएल की रखवाली करेगा।
Matthew 2:7 तब हेरोदेस ने ज्योतिषियों को चुपके से बुलाकर उन से पूछा, कि तारा ठीक किस समय दिखाई दिया था।
Matthew 2:8 और उसने यह कहकर उन्हें बैतलहम भेजा, कि जा कर उस बालक के विषय में ठीक ठीक मालूम करो और जब वह मिल जाए तो मुझे समाचार दो ताकि मैं भी आकर उसको प्रणाम करूं।
Matthew 2:9 वे राजा की बात सुनकर चले गए, और देखो, जो तारा उन्होंने पूर्व में देखा था, वह उन के आगे आगे चला, और जंहा बालक था, उस जगह के ऊपर पंहुचकर ठहर गया।
Matthew 2:10 उस तारे को देखकर वे अति आनन्‍दित हुए।
Matthew 2:11 और उस घर में पहुंचकर उस बालक को उस की माता मरियम के साथ देखा, और मुंह के बल गिरकर उसे प्रणाम किया; और अपना अपना यैला खोल कर उसे सोना, और लोहबान, और गन्‍धरस की भेंट चढ़ाई।
Matthew 2:12 और स्‍वप्‍न में यह चितौनी पाकर कि हेरोदेस के पास फिर न जाना, वे दूसरे मार्ग से हो कर अपने देश को चले गए।

एक साल में बाइबल: 
  • उत्पत्ति 16-17
  • मत्ती 5:27-48