बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Sunday, October 17, 2010

महान कन्धों पर

हमारी कथा-कहानियों में, ऐतिहासिक एवं कालपनिक दोनो रूपों में, विशलकाय मानवों का विशेष स्थान रहा है। ऐतिहासिक भीमकाय गोलियत से लेकर कालपनिक कहानी "Jack and the Beanstalk" के राक्षस तक, इन विशल देह वाले मानवों से हम रोमांचित होते रहे हैं।

कभी कभी हम किसी सामन्य शरीर वाले मनुष्य को भी महामानव के रूप में देखते हैं क्योंकि उसने कुछ असाधारण काम किये होते हैं, इसलिये हम उन्हें महान मानते हैं। ऐसे ही एक महान व्यक्ति थे १७वीं शताब्दी के मशहूर भौतिकशास्त्री सर आइज़क न्यूटन। वे एक मसीही विश्वासी थे और उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय अपने से पहले आए महान लोगों को दिया, उन्होंने कहा "यदि मैं कुछ आगे देख सका हूं तो यह संभव हुआ मेरा महान लोगों के कंधों पर चढ़ पाने के द्वारा।" न्यूटन भी ऐसे ही महान व्यक्तितव बन गए जिनके कंधों पर उनके बाद के वैज्ञानिक चढ़ सके और उनके अविष्कारों के सहारे अन्तरिक्ष की यात्रा संभव हो सकी।

जब परमेश्वर ने यहोशु को इस्त्राएलियों को वाचा की भूमि में ले जाने की आज्ञा दी, तब भी यहोशु के पास सहारे के लिये महान कन्धे थे - वह ४० साल तक परमेश्वर के सेवक मूसा द्वारा इस्त्राएलियों की अगुवाई को देखता रहा था और उससे सीखता रहा था, अब समय था कि जो उसने सीखा उसे कार्यान्वित करे। यहोशु के पास एक लाभ की बात और थी - परमेश्वर के साथ उसकी संगति। अर्थात अब उसके पास मूसा का उदाहरण और परमेश्वर की संगति दोनो थे जो इस्त्राएलियों को वाचा की भूमि में लेजाकर बसाने में उसकी सहायता करते।

भविष्य की अनिश्चितता का सामना करने के लिये क्या आप किसी सहारे की तलाशा में हैं? किसी ऐसे महान व्यक्तित्व का अनुसरण कीजीए जो इस राह चला हो, और इस अनुसरण में परमेश्वर की संगति को भी अपने साथ ले लीजिए। पौलुस ने कहा "तुम मेरी सी चाल चलो जैसे मैं मसीह की सी चाल चलता हूँ" (१ कुरिन्थियों ११:१); प्रभु यीशु मसीह और बाइबल के विश्वासियों के उदाहरण आपको सही राह पर लेकर चलेंगे। - डेनिस फिशर


अच्छा उदाहरण वह है जो मार्ग जानता हो, मार्ग पर चलता हो और मार्ग दिखाता हो।

यीशु ने उस से कहा, मार्ग और सच्‍चाई और जीवन मैं ही हूं; बिना मेरे द्वारा कोई पिता के पास नहीं पहुंच सकता। - यूहन्ना १४:६


तेरे जीवन भर कोई तेरे साम्हने ठहर न सकेगा, जैसे मैं मूसा के संग रहा वैसे ही तेरे संग भी रहूंगा; और न तो मैं तुझे धोखा दूंगा, और न तुझ को छोडूंगा। - यहोशू १:५


बाइबल पाठ: यहोशु १:१-९

यहोवा के दास मूसा की मृत्यु के बाद यहोवा ने उसके सेवक यहोशू से जो नून का पुत्र था कहा,
मेरा दास मूसा मर गया है, सो अब तू उठ, कमर बान्ध, और इस सारी प्रजा समेत यरदन पार होकर उस देश को जा जिसे मैं उनको अर्थात इस्राएलियों को देता हूं।
उस वचन के अनुसार जो मैं ने मूसा से कहा, अर्थात जिस जिस स्थान पर तुम पांव धरोगे वह सब मैं तुम्हे दे देता हूं।
जंगल और उस लबानोन से लेकर परात महानद तक, और सूर्यास्त की ओर महासमुद्र तक हित्तियों का सारा देश तुम्हारा भाग ठहरेगा।
तेरे जीवन भर कोई तेरे साम्हने ठहर न सकेगा, जैसे मैं मूसा के संग रहा वैसे ही तेरे संग भी रहूंगा; और न तो मैं तुझे धोखा दूंगा, और न तुझ को छोडूंगा।
इसलिये हियाव बान्धकर दृढ़ हो जा, क्योंकि जिस देश के देने की शपथ मैं ने इन लोगों के पूर्वजों से खाई थी उसका अधिकारी तू इन्हें करेगा।
इतना हो कि तू हियाव बान्धकर और बहुत दृढ़ होकर जो व्यवस्था मेरे दास मूसा ने तुझे दी है उन सब के अनुसार करने में चौकसी करना, और उस से न तो दहिने मुड़ना और न बांए, तब जहां जहां तू जाएगा वहां वहां तेरा काम सफल होगा।
व्यवस्था की यह पुस्तक तेरे चित्त से कभी न उतरने पाए, इसी में दिन रात ध्यान दिए रहना, इसलिये कि जो कुछ उस में लिखा है उसके अनुसार करने की तू चौकसी करे; क्योंकि ऐसा ही करने से तेरे सब काम सफल होंगे, और तू प्रभावशाली होगा।
क्या मैं ने तुझे आज्ञा नहीं दी? हियाव बान्धकर दृढ़ हो जा; भय न खा, और तेरा मन कच्चा न हो, क्योंकि जहां जहां तू जाएगा वहां वहां तेरा परमेश्वर यहोवा तेरे संग रहेगा।

एक साल में बाइबल:
  • यशायाह ५०-५२
  • १ थिसुलिनीकियों ५