बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, November 7, 2011

रस्म या स्मरण

   प्रति वर्ष अमेरीकी नगरिक एक दिवस मनाते हैं "स्मरण दिवस", अपने उन नागरिकों को स्मरण करने के लिए जिन्हों ने अपने प्राण दे दिये ताकि अन्य स्वतंत्रता के साथ रह सकें। इस दिवस पर ध्यान उन दिवंगत सैनिकों पर रहना चाहिए जिन्होंने अपना बलिदान दिया, किंतु कई लोगों के लिए इस दिवस की महत्वता नहीं रही है, और वे उन बलिदान देने वालों के बारे में सोचने की बजाए केवल अपने बारे ही में सोचते रहते हैं।

   डेट्रोइट शहर के एक अखबर में एक पत्रकार ने इस दिवस पर हुई ऐसी ही एक घटना का वर्णन किया, जिसमें वहां उपस्थित एक नौसैनिक ने इस बात का दुख जताया कि लोगों के अन्दर इस दिवस और उसके अर्थ की संवेदनशीलता नहीं रही। जब इस दिवस से संबंधित कार्यक्रम आयोजित हो रहे थे, तो थोड़ी ही दूरी पर एक नौजवान भड़कीले वस्त्र पहने अपनी सजी हुई साईकिल पर चक्कर लगा रहा था। साईकिल पर सुनहरे रंग का कार्डबोर्ड लगा था, जिस पर उस नौजवान की सहेलियों की फोटो लगीं थीं, २ रेडियो बज रहे थे और २० बतियाँ चारों ओर जल बुझ रहीं थी। जब उस नौजवान से इसका तात्पर्य पूछा गया तो उसने बड़ी लापरवाही से कहा, वह यह अपनी ओर ध्यान आकर्षित करने के लिए कर रहा था।

   परमेश्वर के वचन बाइबल के १ कुरिन्थियों ११ अध्याय में एक और स्मरण दिवस का उल्लेख है, जिसे कुरिन्थुस के मसीही विश्वासी बहुत लापरवही से लेने लगे थे, और तब प्रेरित पौलुस को उन लोगों को इस दिवस की महत्वता और गंभीरता को अपनी पत्री में समझाना पड़ा था कि यह समय प्रभु यीशु के क्रूस पर दिये गए बलिदान और प्रभु के विश्वासी के जीवन में उसके अर्थ एवं महत्व को स्मरण करने का है। उस समय के बहुत से मसीही विश्वासी मसीह यीशु को स्मरण करने के बजाए केवल अपना ही ध्यान करने लगे थे; उनके लिए स्मरण का वह प्रभु भोज खाने, पीने और मौज-मस्ती का अवसर बन गया था। जैसे उस समय हुआ था, वैसा ही आज भी यह दिवस भी बहुतेरे मसीहीयों के लिए अपना वास्तविक अर्थ खो चुका है, क्योंकि वे इसकी गंभीरता की ओर ध्यान लगाए बिना इसे एक रस्म के तौर पर मनाते हैं।

   परमेश्वर का वचन हमें सिखाता है कि जब हम प्रभु भोज में सम्मिलित हों तो उस समय अपने बारे में सोचना छोड़कर प्रभु के बलिदान को, उसके कारण को और उस बलिदान से हमें मिले जीवन, उद्धार तथा आशीषों समरण करें तथा अपने आप को जांचें कि हम अपने प्रभु के निर्देषों के अनुसार चल रहे हैं अथवा नहीं, उसको अपने जीवन में उचित महत्व दे रहें हैं अथवा नहीं। प्रभु भोज कोई रस्म नहीं है, यह प्रभु और उसके कार्य को आदर देने का अवसर है।

   प्रभु भोज का समय मसीह यीशु और उसके बलिदान पर ध्यान केंद्रित करने और अपने आप को उसकी शिक्षाओं के आधार पर जांचने का समय होना चाहिए। - मार्ट डी हॉन


कभी न भूलें, प्रभु भोज का मेज़बान प्रभु परमेश्वर होता है।

इसी रीति से उस ने बियारी के पीछे कटोरा भी लिया, और कहा; यह कटोरा मेरे लोहू में नई वाचा है: जब कभी पीओ, तो मेरे स्मरण के लिये यही किया करो। - १ कुरिन्थियों ११:२५

बाइबल पाठ: १ कुरिन्थियों ११:१७-२८
    1Co 11:17  परन्तु यह आज्ञा देते हुए, मैं तुम्हें नहीं सराहता, इसलिये कि तुम्हारे इकट्ठे होने से भलाई नहीं, परन्‍तु हानि होती है।
    1Co 11:18  क्‍योंकि पहिले तो मैं यह सुनता हूं, कि जब तुम कलीसिया में इकट्ठे हाते हो, तो तुम में फूट होती है और मैं कुछ कुछ प्रतीति भी करता हूं।
    1Co 11:19  क्योंकि विधर्म भी तुम में अवश्य होंगे, इसलिये कि जो लोग तुम में खरे निकले हैं, वे प्रगट हो जांए।
    1Co 11:20  सो तुम जो एक जगह में इकट्ठे होते हो तो यह प्रभु भोज खाने के लिये नहीं।
    1Co 11:21  क्‍योंकि खाने के समय एक दूसरे से पहिले अपना भोज खा लेता है, सो कोई तो भूखा रहता है, और कोई मतवाला हो जाता है।
    1Co 11:22  क्‍या खाने पीने के लिये तुम्हारे घर नहीं? या परमेश्वर की कलीसिया को तुच्‍छ जानते हो, और जिन के पास नहीं है उन्‍हें लज्ज़ित करते हो? मैं तुम से क्‍या कहूं? क्‍या इस बात में तुम्हारी प्रशंसा करूं? मैं प्रशंसा नहीं करता।
    1Co 11:23  क्‍योंकि यह बात मुझे प्रभु से पहुंची, और मैं ने तुम्हें भी पहुंचा दी कि प्रभु यीशु ने जिस रात पकड़वाया गया रोटी ली।
    1Co 11:24  और धन्यवाद कर के उसे तोड़ी, और कहा; कि यह मेरी देह है, जो तुम्हारे लिये है: मेरे स्मरण के लिये यही किया करो।
    1Co 11:25  इसी रीति से उस ने बियारी के पीछे कटोरा भी लिया, और कहा; यह कटोरा मेरे लोहू में नई वाचा है: जब कभी पीओ, तो मेरे स्मरण के लिये यही किया करो।
    1Co 11:26  क्‍योंकि जब कभी तुम यह रोटी खाते, और इस कटोरे में से पीते हो, तो प्रभु की मृत्यु को जब तक वह न आए, प्रचार करते हो।
    1Co 11:27  इसलिये जो कोई अनुचित रीति से प्रभु की रोटी खाए, या उसके कटोरे में से पीए, वह प्रभु की देह और लोहू का अपराधी ठहरेगा।
    1Co 11:28  इसलिये मनुष्य अपने आप को जांच ले और इसी रीति से इस रोटी में से खाए, और इस कटोरे में से पीए।
 
एक साल में बाइबल: 
  • यर्मियाह ४०-४२ 
  • इब्रानियों ४