बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Tuesday, November 1, 2016

कलाकृति


   प्रत्येक पतझड़ ऋतु में हमारा शहर तीन सप्ताह के लिए एक कला-दीर्घा बन जाता है। संसार भर से लगभग 2000 कलाकार आकर अपनी कला की प्रदर्शनी संग्रहालयों, होटलों, पार्क, सड़क के किनारे, चर्च और नदियों में भी लगाते हैं। मुझे सबसे अधिक पसन्द आने वाली कलाकृतियों में से एक हैं पच्चिकारी विधि से बनी कलाकृतियाँ, जिसके लिए कलाकार छोटे-छोटे टुकड़ों को एकत्रित करके उनसे कलाकृति बनाते हैं। सन 2011 की ईनाम जीतने वाली कलाकृति थी 9 x 13 आकार की रंगीन काँच के टुकड़ों से बनी मिया टैवोनैट्टी का प्रभु यीशु के क्रूस पर चढ़े होने का चित्र। उस कलाकृति का निरीक्षण करते हुए मैंने उस कलाकार को कलाकृति बनाने की कहानी सुनाते हुए सुना कि कैसे उन काँच के टुकड़ों को सही आकार देने और उसके स्थान के लिए तैयार करते हुए उसने आप को कितनी बार काँच से घायल कर लिया था।

   उस हृदयविदारक घटना के खूबसरत चित्रिकरण को निहारते हुए मुझे वहाँ प्रभु यीशु के क्रूस पर चढ़ाए जाने के दृश्य से भी बढ़ कर कुछ नज़र आया - मैंने वहाँ प्रभु यीशु की देह, अर्थात उसके विश्वासियों की मण्डली को बनाया गया देखा। काँच के प्रत्येक टुकड़े में मैंने एक मसीही विश्वासी को देखा, जिसे मसीह यीशु ने उसके सही स्थान के लिए तराशकर तैयार किया था, जो अपने स्थान पर देह को पूर्ण कर रहा था, स्वयं सुन्दर दिख रहा था और देह को सुन्दर बना रहा था; और सभी टुकड़े एक साथ मिलकर एक संपूर्ण देह बना रहे थे (इफिसियों 2:16, 21)। कलाकृति बनाने के लिए कलाकार के प्रयासों की कहानी में मैंने प्रभु यीशु के घायल होने और अपना रक्त बहाने को देखा जिससे काँच के टुकड़ों में आपसी तालमेल और एक जुटता आ सके। उस पूर्ण कलाकृति में मैंने उस प्रेम को देखा जिसके अन्तर्गत दुःख और तकलीफ उठाकर, बलिदान देकर के यह कार्य पूर्ण किया जा सका।

   हम मसीही विश्वासी परमेश्वर के द्वारा मसीह यीशु में होकर बनाई गई कलाकृति के अंश हैं जो हमारे उद्धारकर्ता प्रभु परमेश्वर की महानता को दिखाती है; उसकी जो हमारे टूटे हुए और चुभने तथा आहत करने वाले जीवनों को लेकर अपनी समानता में ढालता है, हमारे द्वारा एक सुन्दर तथा उपयोगी निर्माण करता है। - जूली ऐकैरमैन लिंक


प्रभु यीशु मसीह ने अपनी मण्डली को सुन्दर और बहुमूलय बनाने के लिए अपना सब कुछ दे दिया।

क्योंकि जिन्हें उसने पहिले से जान लिया है उन्हें पहिले से ठहराया भी है कि उसके पुत्र के स्वरूप में हों ताकि वह बहुत भाइयों में पहिलौठा ठहरे। - रोमियों 8:29

बाइबल पाठ: इफिसियों 2:10-22
Ephesians 2:10 क्योंकि हम उसके बनाए हुए हैं; और मसीह यीशु में उन भले कामों के लिये सृजे गए जिन्हें परमेश्वर ने पहिले से हमारे करने के लिये तैयार किया।
Ephesians 2:11 इस कारण स्मरण करो, कि तुम जो शारीरिक रीति से अन्यजाति हो, (और जो लोग शरीर में हाथ के किए हुए खतने से खतना वाले कहलाते हैं, वे तुम को खतना रहित कहते हैं)। 
Ephesians 2:12 तुम लोग उस समय मसीह से अलग और इस्‍त्राएल की प्रजा के पद से अलग किए हुए, और प्रतिज्ञा की वाचाओं के भागी न थे, और आशाहीन और जगत में ईश्वर रहित थे। 
Ephesians 2:13 पर अब तो मसीह यीशु में तुम जो पहिले दूर थे, मसीह के लोहू के द्वारा निकट हो गए हो। 
Ephesians 2:14 क्योंकि वही हमारा मेल है, जिसने दोनों को एक कर लिया: और अलग करने वाली दीवार को जो बीच में थी, ढा दिया। 
Ephesians 2:15 और अपने शरीर में बैर अर्थात वह व्यवस्था जिस की आज्ञाएं विधियों की रीति पर थीं, मिटा दिया, कि दोनों से अपने में एक नया मनुष्य उत्पन्न कर के मेल करा दे। 
Ephesians 2:16 और क्रूस पर बैर को नाश कर के इस के द्वारा दोनों को एक देह बनाकर परमेश्वर से मिलाए। 
Ephesians 2:17 और उसने आकर तुम्हें जो दूर थे, और उन्हें जो निकट थे, दोनों को मेल-मिलाप का सुसमाचार सुनाया। 
Ephesians 2:18 क्योंकि उस ही के द्वारा हम दोनों की एक आत्मा में पिता के पास पंहुच होती है। 
Ephesians 2:19 इसलिये तुम अब विदेशी और मुसाफिर नहीं रहे, परन्तु पवित्र लोगों के संगी स्‍वदेशी और परमेश्वर के घराने के हो गए। 
Ephesians 2:20 और प्रेरितों और भविष्यद्वक्ताओं की नेव पर जिसके कोने का पत्थर मसीह यीशु आप ही है, बनाए गए हो। 
Ephesians 2:21 जिस में सारी रचना एक साथ मिलकर प्रभु में एक पवित्र मन्दिर बनती जाती है। 
Ephesians 2:22 जिस में तुम भी आत्मा के द्वारा परमेश्वर का निवास स्थान होने के लिये एक साथ बनाए जाते हो।

एक साल में बाइबल: 
  • यिर्मयाह 24-26
  • तीतुस 2