बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Sunday, June 2, 2019

चट्टान



      मेरे निवास-स्थान के निकट एक पठारी इलाके में, एक चट्टान पर एक बड़ा सा क्रूस खड़ा किया गया है, जो सदा रौशन रहता है। चट्टानों से भरे उस पठारी इलाके के निकट के मैदान पर बहुत से लोगों ने अपने घर बना लिए थे, परन्तु अब उन्हें सुरक्षा कारणों से वहाँ से हटा दिया गया है। उस पठारी इलाके के निकट होने के बावजूद, उनके घर सुरक्षित नहीं थे; उनकी नींव लगभग तीन इंच प्रति दिन की गति से खिसक रही थी, जिससे पानी पहुँचाने वाली मुख्य पाइपलाइन के टूटने और उस पानी की कारण खिसकने की गति और बढ़ जाने का खतरा हो गया था। वे घर चट्टानों के निकट तो थे किन्तु चट्टान पर नहीं थे, इसलिए उनकी नींव अस्थिर थी।

      परमेश्वर के वचन बाइबल में प्रभु यीशु ने उन लोगों की तुलना, जो उसका वचन सुनकर उसे मानते हैं, ऐसे लोगों से की जिन्होंने चट्टान पर घर बनाया है (लूका 6:47-48)। चट्टान पर बने ये घर आँधी-तूफान में भी स्थिर खड़े रहते हैं। इसके तुलना में, प्रभु ने कहा, जो लोग उसके निर्देशों का पालन नहीं करते हैं, वे उनके समान हैं जिन्होंने अस्थिर नींव पर घर बनाया, जो आँधियों का सामना नहीं करने पाएगा।

      ऐसे बहुत से अवसर आए हैं जब मैंने अपने विवेक की अवहेलना करनी चाही है, जब मैं जानता था कि जितना मैं अपने आप को दे चुका हूँ, परमेश्वर मुझे उससे और अधिक देने के लिए कह रहा है, इस विचार के साथ कि मैं लगभग पर्याप्त कर तो चुका हूँ। परन्तु चट्टानों के निकट बने वे घर जिन्हें छोड़ना पड़ा, मुझे सिखाते हैं कि “लगभग” आज्ञाकारिता के दृष्टिकोण से अपर्याप्त ही होता है, अनाज्ञाकारिता होता है।

      उनके समान होने के लिए जिन्होंने अपने घर ऐसी दृढ़ नींव पर बनाए जो आँधी-तूफानों का सामना कर सकें, हमें अपने जीवन प्रभु यीशु मसीह के वचनों की पूर्ण आज्ञाकारिता की चट्टान पर बनाने चाहिएँ। - कर्सटिन होम्बर्ग


जीवन की एकमात्र स्थिर नींव परमेश्वर का वचन है।

बवण्डर निकल जाते ही दुष्ट जन लोप हो जाता है, परन्तु धर्मी सदा लों स्थिर है। - नीतिवचन 10:25

बाइबल पाठ: लूका 6:46-49
Luke 6:46 जब तुम मेरा कहना नहीं मानते, तो क्यों मुझे हे प्रभु, हे प्रभु, कहते हो?
Luke 6:47 जो कोई मेरे पास आता है, और मेरी बातें सुनकर उन्हें मानता है, मैं तुम्हें बताता हूं कि वह किस के समान है
Luke 6:48 वह उस मनुष्य के समान है, जिसने घर बनाते समय भूमि गहरी खोदकर चट्टान की नेव डाली, और जब बाढ़ आई तो धारा उस घर पर लगी, परन्तु उसे हिला न सकी; क्योंकि वह पक्का बना था।
Luke 6:49 परन्तु जो सुनकर नहीं मानता, वह उस मनुष्य के समान है, जिसने मिट्टी पर बिना नेव का घर बनाया। जब उस पर धारा लगी, तो वह तुरन्त गिर पड़ा, और वह गिरकर सत्यानाश हो गया।

एक साल में बाइबल:  
  • 2 इतिहास 17-18
  • यूहन्ना 13:1-20