बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Saturday, November 16, 2013

सावधान!


   बैंक में पैसा लेने-देने और संभालने वाले अधिकारियों के प्रशिक्षण के समय उन्हें असली और नकली नोट में भेद करना और नकली को पहचानना सिखाया जाता है। उन्हें असली और नकली दोनों ही नोट दिखाए जाते हैं फिर असली की तुलना में नकली में विद्यमान समानताओं को नहीं वरन भिन्नताओं को देखना और पहचानना सिखाया जाता है।

   परमेश्वर के वचन बाइबल में प्रेरित यूहन्ना की पहली पत्री के दुसरे अध्याय में मसीही विश्वासियों के समक्ष झूठे मसीही विश्वासियों और शिक्षकों के उदाहरण रखे गए हैं जिससे वे असली-नकली की पहचान कर सकें। यूहन्ना ने बताया कि अन्त के समयों की एक पहचान होगी झूठे मसीहियों और मसीह विरोधियों की बहुतायत (1 यूहन्ना 2:18)। झूठे मसीही या मसीह विरोधी वे हैं जो अपने में मसीह यीशु की सामर्थ और उससे प्राप्त अधिकार के होने का दावा तो करते हैं लेकिन उनमें ऐसा कुछ भी नहीं होता; या फिर वे जो मसीह यीशु और मसीही विश्वास का और उसकी शिक्षाओं का इन्कार करते हैं, उसका विरोध करते हैं।

   प्रेरित यूहन्ना ने मसीह विरोधियों की पहचान के तीन चिन्ह दिए: वे मसीही संगति और सहभागिता से हट जाते हैं (पद 19); वे प्रभु यीशु को जगत का उद्धारकर्ता मसीहा स्वीकार नहीं करते (पद 22); वे मसीही विश्वासियों को भी मसीह यीशु से दूर कर देने के प्रयास करते हैं (पद 26)। साथ ही यूहन्ना इसी पत्री में ऐसे मसीह विरोधियों से बच कर रहने के उपाय भी बताता है: प्रत्येक मसीही विश्वासी अपने अन्दर वास करने वाले परमेश्वर पवित्र आत्मा पर निर्भर रहे, उसकी आज्ञाकरिता में चले; परमेश्वर के वचन की सच्चाईयों को जाने और उनमें बना रहे तथा मसीह यीशु के साथ संगति बनाए रखे।

   जैसे बैंक के कर्मचारी असली-नकली नोट के तुलनात्मक प्रशिक्षण के द्वारा असली को पहचानने वाले तथा नकली के नुकसान से बचे रहने वाले हो जाते हैं, हम मसीही विश्वासी भी अटल सत्य प्रभु यीशु मसीह की पहचान के द्वारा नकली अर्थात मसीह विरोधियों को पहचान कर उनके षड़यंत्रों और गलत शिक्षाओं से बचे रह सकते हैं। - मार्विन विलियम्स


सचेत रहें; शैतान थोड़े से सत्य का हल्का सा आवरण पहना कर असत्य को स्वीकारयोग्य बनाने के प्रयास में लगा रहता है।

और यह कुछ अचम्भे की बात नहीं क्योंकि शैतान आप भी ज्योतिमर्य स्वर्गदूत का रूप धारण करता है। सो यदि उसके सेवक भी धर्म के सेवकों का सा रूप धरें, तो कुछ बड़ी बात नहीं परन्तु उन का अन्‍त उन के कामों के अनुसार होगा। - 2 कुरिन्थियों 11:14-15

बाइबल पाठ: 1यूहन्ना 2:18-27
1 John 2:18 हे लड़कों, यह अन्‍तिम समय है, और जैसा तुम ने सुना है, कि मसीह का विरोधी आने वाला है, उसके अनुसार अब भी बहुत से मसीह के विरोधी उठे हैं; इस से हम जानते हैं, कि यह अन्‍तिम समय है। 
1 John 2:19 वे निकले तो हम ही में से, पर हम में के थे नहीं; क्योंकि यदि हम में के होते, तो हमारे साथ रहते, पर निकल इसलिये गए कि यह प्रगट हो कि वे सब हम में के नहीं हैं। 
1 John 2:20 और तुम्हारा तो उस पवित्र से अभिषेक हुआ है, और तुम सब कुछ जानते हो। 
1 John 2:21 मैं ने तुम्हें इसलिये नहीं लिखा, कि तुम सत्य को नहीं जानते, पर इसलिये, कि उसे जानते हो, और इसलिये कि कोई झूठ, सत्य की ओर से नहीं। 
1 John 2:22 झूठा कौन है? केवल वह, जो यीशु के मसीह होने का इन्कार करता है; और मसीह का विरोधी वही है, जो पिता का और पुत्र का इन्कार करता है। 
1 John 2:23 जो कोई पुत्र का इन्कार करता है उसके पास पिता भी नहीं: जो पुत्र को मान लेता है, उसके पास पिता भी है। 
1 John 2:24 जो कुछ तुम ने आरम्भ से सुना है वही तुम में बना रहे: जो तुम ने आरम्भ से सुना है, यदि वह तुम में बना रहे, तो तुम भी पुत्र में, और पिता में बने रहोगे। 
1 John 2:25 और जिस की उसने हम से प्रतिज्ञा की वह अनन्त जीवन है। 
1 John 2:26 मैं ने ये बातें तुम्हें उन के विषय में लिखी हैं, जो तुम्हें भरमाते हैं। 
1 John 2:27 और तुम्हारा वह अभिषेक, जो उस की ओर से किया गया, तुम में बना रहता है; और तुम्हें इस का प्रयोजन नहीं, कि कोई तुम्हें सिखाए, वरन जैसे वह अभिषेक जो उस की ओर से किया गया तुम्हें सब बातें सिखाता है, और यह सच्चा है, और झूठा नहीं: और जैसा उसने तुम्हें सिखाया है वैसे ही तुम उस में बने रहते हो।

एक साल में बाइबल: 
  • यहेजकेल 3-4 
  • इब्रानियों 11:20-40