बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Friday, December 21, 2018

अवसर



      न्यू यॉर्क के एक चर्च के बाहर लगी क्रिसमस की झाँकी की चरनी में किसी ने एक कुछ ही घंटे के नवजात शिशु को रख दिया। एक जवान, परेशान माँ ने उसे अच्छे से लपेट कर जिससे वह गर्म रहे उसे ऐसे स्थान पर छोड़ दिया जहाँ वह दिखाई दे सके और उठा लिया जाए। यदि हम उस माँ पर कोई दोषारोपण करना चाहते हैं तो ऐसा करने के स्थान पर हमें धन्यवादी होना चाहिए कि उस शिशु के पास अब जीवन में अवसर होगा, वह बढ़ सकेगा।

      यह मेरे लिए व्यक्तिगत है, क्योंकि मैं भी एक गोद लिया गया बच्चा हूँ। मुझे अपने जन्म से संबंधित किसी भी बात की कोई भी जानकारी नहीं है; परन्तु मैंने कभी जीवन में अपने आप को त्यागा हुआ या असहाय महसूस नहीं किया है। मैं इतना जानता हूँ: मेरी दो माँ हैं, जो मुझे जीवन में अवसर प्रदान करना चाहती थीं। एक ने मुझे जीवन दिया, और दूसरी ने अपना जीवन मुझ में निवेश किया।

      परमेश्वर के वचन बाइबल में हम निर्गमन की पुस्तक में एक प्रेम करने वाली किन्तु परिस्थतियों से परेशान माँ के विषय पढ़ते हैं। मिस्र के राजा, फिरौन ने यहूदियों के घर जन्म लेने वाले सभी लड़कों को मार डालने की आज्ञा निकाली था (निर्गमन 1:22), इसलिए मूसा की माँ ने उसे तब तक छिपाए रखा जब तक संभव हुआ। जब मूसा तीन माह का हो गया, तो उसने मूसा को एक सुरक्षित टोकरी में रखकर उसे नील नदी में छोड़ दिया। यदि उसकी योजना थी कि वह शिशु एक राजकुमारी के द्वारा बचाया जाए, फिरौन के राजमहल में उसका पालन-पोषण हो, और अन्ततः वह अपने लोगों को उनके दासत्व से छुड़ाए, तो यह योजना भली-भांति पूरी हुई।

      जब एक परेशान माँ अपने बच्चे को अवसर प्रदान करती है, परमेश्वर वहाँ से उसे संभाल सकता है, आगे बढ़ा सकता है। यह परमेश्वर की प्रवृत्ति है – और वह ऐसा कल्पना से बढ़कर रचनात्मक विधियों से कर सकता है। - टिम गुस्ताफ्सन


मसीह यीशु के प्रेम को बाँटने वाले बनें।

मेरे माता पिता ने तो मुझे छोड़ दिया है, परन्तु यहोवा मुझे सम्भाल लेगा। - भजन 27:10

बाइबल पाठ: निर्गमन 1:22-2:10
Exodus 1:22 तब फिरौन ने अपनी सारी प्रजा के लोगों को आज्ञा दी, कि इब्रियों के जितने बेटे उत्पन्न हों उन सभों को तुम नील नदी में डाल देना, और सब बेटियों को जीवित रख छोड़ना।
Exodus 2:1 लेवी के घराने के एक पुरूष ने एक लेवी वंश की स्त्री को ब्याह लिया।
Exodus 2:2 और वह स्त्री गर्भवती हुई और उसके एक पुत्र उत्पन्न हुआ; और यह देखकर कि यह बालक सुन्दर है, उसे तीन महीने तक छिपा रखा।
Exodus 2:3 और जब वह उसे और छिपा न सकी तब उसके लिये सरकंड़ों की एक टोकरी ले कर, उस पर चिकनी मिट्टी और राल लगाकर, उस में बालक को रखकर नील नदी के तीर पर कांसों के बीच छोड़ आई।
Exodus 2:4 उस बालक कि बहिन दूर खड़ी रही, कि देखे इसका क्या हाल होगा।
Exodus 2:5 तब फिरौन की बेटी नहाने के लिये नदी के तीर आई; उसकी सखियां नदी के तीर तीर टहलने लगीं; तब उसने कांसों के बीच टोकरी को देखकर अपनी दासी को उसे ले आने के लिये भेजा।
Exodus 2:6 तब उसने उसे खोल कर देखा, कि एक रोता हुआ बालक है; तब उसे तरस आया और उसने कहा, यह तो किसी इब्री का बालक होगा।
Exodus 2:7 तब बालक की बहिन ने फिरौन की बेटी से कहा, क्या मैं जा कर इब्री स्त्रियों में से किसी धाई को तेरे पास बुला ले आऊं जो तेरे लिये बालक को दूध पिलाया करे?
Exodus 2:8 फिरौन की बेटी ने कहा, जा। तब लड़की जा कर बालक की माता को बुला ले आई।
Exodus 2:9 फिरौन की बेटी ने उस से कहा, तू इस बालक को ले जा कर मेरे लिये दूध पिलाया कर, और मैं तुझे मजदूरी दूंगी। तब वह स्त्री बालक को ले जा कर दूध पिलाने लगी।
Exodus 2:10 जब बालक कुछ बड़ा हुआ तब वह उसे फिरौन की बेटी के पास ले गई, और वह उसका बेटा ठहरा; और उसने यह कहकर उसका नाम मूसा रखा, कि मैं ने इस को जल से निकाल लिया।
                                                                                                                                                        
एक साल में बाइबल: 
  • मीका 4-5
  • प्रकाशितवाक्य 12