बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Saturday, March 23, 2019

शान्ति



      मेरी सहेली ने मुझे उसकी चार दिन की बच्ची को गोदी ले लेने का सैभाग्य प्रदान किया। किन्तु उस बच्ची को गोदी में उठा लेने के कुछ ही समय बाद वह बच्ची बेचैन होने लगी। मैंने उसे अपने से और चिपटा लिया, मेरा गाल उसके सर को छू रहा था, और मैं उसे हलके से हिलाते हुए गुनगुनाने लगी जिससे वह शान्त हो जाए किन्तु ऐसा नहीं हुआ। अपने मातृत्व के डेढ़ दशक के अनुभव का संपूर्ण प्रयोग करने के बावजूद मैं उस बच्ची को शान्त नहीं कर पाई, वह और अधिक बेचैन होती चली गई, जब तक कि मैंने उसे वापस उसकी माँ की गोदी में नहीं दे दिया। मेरे ऐसा करते ही वह तुरंत शान्त हो गई, उसका रोना बन्द हो गया, उसका शरीर ढीला पड़ गया, उसने पहचान लिया कि वह फिर से उसके भरोसेमंद सुरक्षा के स्थान में लौट आई है। मेरी सहेली को भी पता था कि उसे अपनी बच्ची को कैसे पकड़ना और सहलाना है जिससे उसकी बेचैनी दूर हो सके।

      परमेश्वर भी अपने बच्चों की देखभाल एक माँ के समान करता है: कोमलता, विश्वासयोग्यता, और शान्ति प्रदान करने में सदा प्रयासरत रहने के साथ। यदि हम थकित या चिन्तित होते हैं तो वह हमें प्रेम के साथ अपनी बाहों में उठाकर हमें अपनी शान्ति और सुरक्षा का एहसास करवाता है। वह हमें बहुत निकटता से जानता और समझता है क्योंकि वह हमारा सृष्टिकर्ता तथा स्वर्गीय पिता है। उसके हम से वायदा है: “जिसका मन तुझ में धीरज धरे हुए हैं, उसकी तू पूर्ण शान्ति के साथ रक्षा करता है, क्योंकि वह तुझ पर भरोसा रखता है” (यशायाह 26:3)।

      जब इस सँसार के बोझ और परेशानियां हमें अभिभूतित करते हैं, तब हम इस बात में सांत्वना और शान्ति पा सकते हैं कि हमारा स्वर्गीय पिता हमारी रक्षा करता है,हमारे लिए संघर्ष करता है, और प्रेमी पिता के समान हमें संभालता है। - कर्स्टन होम्बर्ग


परमेश्वर की शान्ति हमें पूर्ण आराम देती है।

मैं, मैं ही तेरा शान्तिदाता हूं; तू कौन है जो मरने वाले मनुष्य से, और घास के समान मुर्झाने वाले आदमी से डरता है – यशायाह 51:12

बाइबल पाठ: यशायाह 66:12-16
Isaiah 66:12 क्योंकि यहोवा यों कहता है, देखो, मैं उसकी ओर शान्ति को नदी के समान, और अन्यजातियों के धन को नदी की बाढ़ के समान बहा दूंगा; और तुम उस से पीओगे, तुम उसकी गोद में उठाए जाओगे और उसके घुटनों पर कुदाए जाओगे।
Isaiah 66:13 जिस प्रकार माता अपने पुत्र को शान्ति देती है, वैस ही मैं भी तुम्हें शान्ति दुंगा; तुम को यरूशलेम ही में शान्ति मिलेगी।
Isaiah 66:14 तुम यह देखोगे और प्रफुल्लित होगे; तुम्हारी हड्डियां घास के समान हरी भरी होंगी; और यहोवा का हाथ उसके दासों के लिये प्रगट होगा, और, उसके शत्रुओं के ऊपर उसका क्रोध भड़केगा।
Isaiah 66:15 क्योंकि देखो, यहोवा आग के साथ आएगा, और उसके रथ बवण्डर के समान होंगे, जिस से वह अपने क्रोध को जलजलाहट के साथ और अपनी चितौनी को भस्म करने वाली आग की लपट में प्रगट करे।
Isaiah 66:16 क्योंकि यहोवा सब प्राणियों का न्याय आग से और अपनी तलवार से करेगा; और यहोवा के मारे हुए बहुत होंगे।

एक साल में बाइबल:  
  • यहोशू 13-15
  • लूका 1:57-80