बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Tuesday, December 24, 2019

सन्देश



      रेजिनल्ड फेसेंडेन कई वर्षों से बेतार रेडियो संचार पर कार्य कर रहे थे जिससे बेतार रेडियो संपर्क किया जा सके। अन्य वैज्ञानिकों को उनके विचार अविश्वसनीय और अपारंपरिक लगते थे, और उन्हें संदेह रहता था कि वे कभी अपने प्रयासों में सफल हो भी पाएंगे। परन्तु फेसेंडेन का दावा है कि 24 दिसंबर, 1906 की संध्या को वे रेडियो पर संगीत प्रसारित करने वाले सर्वप्रथम व्यक्ति बन गए।

      फेसेंडेन का एक फलों का व्यापार करने वाली कंपनी के साथ अनुबंध था, और उस कंपनी ने अपनी लगभग एक दर्जन नावों पर बेतार प्रणाली लगा रखी थे जिससे केलों की फसल की काटने और बेचने से संबंधित जानकारी भेजी जा सके। उस क्रिसमस की पूर्व-संध्या को, फेसेंडेन ने बताया, कि उन्होंने उन सभी नावों के बेतार यंत्रों के चलाने वालों को बताया कि वे ध्यान दें, और उन्होंने संध्या 9 बजे, फेसेंडेन की आवाज़ सुनी।

      कहा जाता है कि फेसेंडेन ने एक संगीत नाटक का रिकॉर्ड बजाया, फिर अपने वायलिन पर “ओ पवित्र रात” गीत बजाया, और बजाते हुए उसके अंतिम छंद के शब्दों को गाया भी। अंत में उन्होंने क्रिसमस की शुभकामनाएं देते हुए परमेश्वर के वचन बाइबल से लूका 2 में से स्वर्गदूतों द्वारा बैतलेहम में चरवाहों को प्रभु यीशु के जन्म का समाचार सुनाए जाने वाले खंड को पढ़ा भी।

      दो हज़ार से भी अधिक वर्ष पहले के उन चरवाहों, तथा 1906 में उस फल व्यापार की कंपनी के नाविकों ने, अंधेरी रात में एक अप्रत्याशित तथा चकित कर देने वाला आशा से भरा सन्देश सुना। और आशा का यही सन्देश परमेश्वर आज हमें भी देता है। हमारे लिए एक मुक्तिदाता ने जन्म लिया है – प्रभु यीशु मसीह! (लूका 2:11)। इस अद्भुत आशा के सन्देश के प्रत्युत्तर में हम सदियों से मसीह यीशु में विश्वास लाने वाले लोगों के साथ सम्मिलित होकर, स्वर्गदूतों द्वारा की बात को दोहरा सकते हैं कि, “आकाश में परमेश्वर की महिमा और पृथ्वी पर उन मनुष्यों में जिनसे वह प्रसन्न है शान्‍ति हो” (पद 14)। - एमी पीटरसन

मसीह यीशु के बिना कोई आशा नहीं है। - चार्ल्स स्पर्जन

और उस स्त्री से कहा, अब हम तेरे कहने ही से विश्वास नहीं करते; क्योंकि हम ने आप ही सुन लिया, और जानते हैं कि यही सचमुच में जगत का उद्धारकर्ता है। - यूहन्ना 4:42

बाइबल पाठ: लूका 2:10-20
Luke 2:10 तब स्वर्गदूत ने उन से कहा, मत डरो; क्योंकि देखो मैं तुम्हें बड़े आनन्द का सुसमाचार सुनाता हूं जो सब लोगों के लिये होगा।
Luke 2:11 कि आज दाऊद के नगर में तुम्हारे लिये एक उद्धारकर्ता जन्मा है, और यही मसीह प्रभु है।
Luke 2:12 और इस का तुम्हारे लिये यह पता है, कि तुम एक बालक को कपड़े में लिपटा हुआ और चरनी में पड़ा पाओगे।
Luke 2:13 तब एकाएक उस स्वर्गदूत के साथ स्‍वर्गदूतों का दल परमेश्वर की स्‍तुति करते हुए और यह कहते दिखाई दिया।
Luke 2:14 कि आकाश में परमेश्वर की महिमा और पृथ्वी पर उन मनुष्यों में जिनसे वह प्रसन्न है शान्‍ति हो।
Luke 2:15 जब स्वर्गदूत उन के पास से स्वर्ग को चले गए, तो गड़ेरियों ने आपस में कहा, आओ, हम बैतलहम जा कर यह बात जो हुई है, और जिसे प्रभु ने हमें बताया है, देखें।
Luke 2:16 और उन्होंने तुरन्त जा कर मरियम और यूसुफ को और चरनी में उस बालक को पड़ा देखा।
Luke 2:17 इन्हें देखकर उन्होंने वह बात जो इस बालक के विषय में उन से कही गई थी, प्रगट की।
Luke 2:18 और सब सुनने वालों ने उन बातों से जो गड़िरयों ने उन से कहीं आश्चर्य किया।
Luke 2:19 परन्तु मरियम ये सब बातें अपने मन में रखकर सोचती रही।
Luke 2:20 और गड़ेरिये जैसा उन से कहा गया था, वैसा ही सब सुनकर और देखकर परमेश्वर की महिमा और स्‍तुति करते हुए लौट गए।

एक साल में बाइबल: 
  • हबक्कूक 1-3
  • प्रकाशितवाक्य 15