बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, May 28, 2012

उस के हाथों में

   सेडरविल्ल विश्वविद्यालय के २००२ के दीक्षांत समारोह में, उस वर्ष के स्नातकों को, जिनमें हमारी बेटी जूली भी थी, अपने संदेश में डॉ० पौल डिक्सन ने आगे के जीवन के लिए प्रोत्साहित करते हुए कहा: "तुम्हारे समय परमेश्वर के हाथों में हैं।" हम सब परिवारजन वहां उपस्थित थे और यह सुन रहे थे, तथा सोच रहे थे कि उन्होंने कितना सही कहा, स्नातकों को कितनी अच्छी बात बताई। उस समय हमें इस बात का ज़रा भी अन्देशा नहीं था कि ५ दिनों में ही हमारी एक और बेटी मेलिस्सा, एक कार दुर्घटना द्वारा पृथ्वी से स्वर्ग के लिए कूच कर जाएगी, और हम उस दिन के उस संदेश में भजन ३१:१५ से लेकर कही गए उस बात को एक नए संदर्भ में स्मरण करते रह जाएंगे।

   उसके बाद के वर्षों में हमने दुखते दिलों के अनुभवों द्वारा जाना है कि परमेश्वर ने अपनी रहस्यमयी इच्छा के अन्तर्गत कुछ लोगों के लिए एक छोटा जीवन काल निर्धारित किया है। मुझे कुछ उदाहरण स्मरण आते हैं; जैसे कि हीदर, एक मसीही विश्वासी युवती, जिसके पास सदा ही सब के लिए एक मधुर मुस्कान होती थी; उसकी ऊंगुली में एक घाव हुआ और सप्ताह भर ही में वह गंभीर संक्रमण के कारण चल बसी। या, मैग्गी, एक और युवा मसीही विश्वासी, खेलते समय उसकी गर्दन पर गेंद लगी और उसका जीवनांत हो गया। या, थौमस नाम का एक और किशोर, जो प्रभु यीशु से बहुत प्रेम करता था और मछली पकड़ने का शौक रखता था; एक दिन जब वह मछली पकड़ने के बाद अपनी साईकिल से घर वापस लौट रहा था तो एक कार द्वारा टक्कर मारे जाने से जाता रहा। इन सभी छोटी उम्र के विश्वासियों ने अपने छोटे से जीवन काल में अपने प्रभु और उस में अपने विश्वास तथा दूसरों के प्रति अपने प्रेम से एक ऐसी विरासत बना ली थी, कि जब उनका समया आया तो वे अपने प्रभु के सामने उपस्थित होने के लिए तैयार थे।

   भजनकार ने यह पहचानते हुए कि उसके जीवन का नियंत्रण केवल परमेश्वर के हाथों ही में है, कहा: "मैं ने तो तुझी पर भरोसा रखा है" (भजन ३१:१५)। क्या आपने अपना जीवन परमेश्वर के हाथों में समर्पित कर दिया है? क्या आपने उस पर पूर्ण रीति से भरोसा कर लिया है? क्या आप कभी भी, या अभी ही, उसके सामने उपस्थित होने और अपने जीवन का हिसाब देने के लिए तैयार हैं?

   आपसे यह हिसाब कभी भी अनायास ही मांगा जा सकता है, इसे नज़रंदाज़ मत कीजिए, इसकी तैयारी में विलंब मत कीजिए। प्रभुइ यीशु मसीह में विश्वास और पापों की क्षमा द्वारा अपना अनन्त्काल सुरक्षित कर लिजिए। - डेव ब्रैनन


सब लोगों के समय परमेश्वर के हाथों में हैं तथा सभी मसीही विश्वासियों की आत्माएं उसके हाथों में अनन्तकाल के लिए सुरक्षित हैं।

परन्तु हे यहोवा मैं ने तो तुझी पर भरोसा रखा है, मैं ने कहा, तू मेरा परमेश्वर है। मेरे दिन तेरे हाथ में हैं, तू मुझे मेरे शत्रुओं और मेरे सताने वालों के हाथ से छुड़ा। - भजन ३१:१४-१५

बाइबल पाठ: भजन ३१:१-१६
Psa 31:1  हे यहोवा मेरा भरोसा तुझ पर है, मुझे कभी लज्जित होना न पड़े; तू अपने धर्मी होने के कारण मुझे छुड़ा ले!
Psa 31:2  अपना कान मेरी ओर लगा कर तुरन्त मुझे छुड़ा ले!
Psa 31:3  क्योंकि तू मेरे लिए चट्टान और मेरा गढ़ है; इसलिए अपने नाम के निमित्त मेरी अगुवाई कर, और मुझे आगे ले चल।
Psa 31:4  जो जाल उन्होंने मेरे लिए बिछाया है उस से तू मुझ को छुड़ा ले, क्योंकि तू ही मेरा दृढ़ गढ़ है।
Psa 31:5  मैं अपनी आत्मा को तेरे ही हाथ में सौंप देता हूं; हे यहोवा, हे सत्यवादी ईश्वर, तू ने मुझे मोल लेकर मुक्त किया है।
Psa 31:6  जो व्यर्थ वस्तुओं पर मन लगाते हैं, उन से मैं घृणा करता हूं, परन्तु मेरा भरोसा यहोवा ही पर है।
Psa 31:7  मैं तेरी करूणा से मगन और आनन्दित हूं, क्योंकि तू ने मेरे दु:ख पर दृष्टि की है, मेरे कष्ट के समय तू ने मेरी सुधि ली है,
Psa 31:8  और तू ने मुझे शत्रु के हाथ में पड़ने नहीं दिया, तू ने मेरे पांवों को चौड़े स्थान में खड़ा किया है।
Psa 31:9  हे यहोवा, मुझ पर अनुग्रह कर क्योंकि मैं संकट में हूं; मेरी आंखे वरन मेरा प्राण और शरीर सब शोक के मारे घुले जाते हैं।
Psa 31:10  मेरा जीवन शोक के मारे और मेरी अवस्था कराहते कराहते घट चली है; मेरा बल मेरे अधर्म के कारण जाता रह, ओर मेरी हडि्डयां घुल गई।
Psa 31:11  अपने सब विरोधियों के कारण मेरे पड़ोसियों में मेरी नामधराई हुई है, अपने जान-पहिचान वालों के लिए डर का कारण हूं; जो मुझ को सड़क पर देखते है वह मुझ से दूर भाग जाते हैं।
Psa 31:12  मैं मृतक की नाईं लोगों के मन से बिसर गया, मैं टूटे बासन के समान हो गया हूं।
Psa 31:13  मैं ने बहुतों के मुंह से अपना अपवाद सुना, चारों ओर भय ही भय है! जब उन्होंने मेरे विरूद्ध आपस में सम्मति की तब मेरे प्राण लेने की युक्ति की।
Psa 31:14  परन्तु हे यहोवा मैं ने तो तुझी पर भरोसा रखा है, मैं ने कहा, तू मेरा परमेश्वर है।
Psa 31:15  मेरे दिन तेरे हाथ में हैं; तू मुझे मेरे शत्रुओं और मेरे सताने वालों के हाथ से छुड़ा।
Psa 31:16  अपने दास पर अपने मुंह का प्रकाश चमका; अपनी करूणा से मेरा उद्धार कर।


एक साल में बाइबल: 

  • २ इतिहास ४-६ 
  • यूहन्ना १०:२४-४२