बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Wednesday, September 4, 2013

मिट्टी के ढेर

   कॉलेज का अध्यक्ष होने के नाते मेरी ज़िम्मेदारियों में से एक है सालाना दीक्षांत समारोह। एक वर्ष, जब मैं दीक्षांत समारोह के लिए जा रहा था तो मेरा मन इस विचार से प्रफुल्लित था कि हमारे कॉलेज से शिक्षा पाए हुए स्नातक अब बाहर निकल कर संसार के सामने जीवन बदल देने वाले प्रभु यीशु मसीह में पापों की क्षमा और उद्धार के सुसमाचार को ले जाने के लिए तैयार हैं। चलते चलते एक स्थान पर मैंने कुछ चींटियों को बड़ी मेहनत के साथ अपने कार्य को करते देखा; वे धरती के नीचे से मिट्टी के कण ला ला कर बाहर रखती जा रही थीं और वह मिट्टी जमा होकर एक ढेर बनती जा रही थी। मेरे मन में विचार आया, अरे भई संसार में मिट्टी के ढेर बनाने से भी अधिक महत्वपूर्ण कार्य अभी शेष हैं, लेकिन उन चींटियों के लिए तो वही कार्य सबसे महत्वपूर्ण था और वे संसार की अन्य सभी बातों से बेखबर अपने उसी कार्य में लगी हुई थीं।

   कभी कभी हमारे लिए भी उन चींटियों के समान ही अपनी ही दुनिया में खो जाने और परमेश्वर की नज़र में कोई महत्वहीन कार्य करने में लगे रह जाना बहुत सरल होता है। हम अपनी ही दिनचर्या और कार्यों में इतने व्यस्त हो जाते हैं कि व्यक्तिगत रीति से परमेश्वर के व्यापक और महान कार्य का आनन्द लेने से अपने आप को वंचित कर लेते हैं। परमेश्वर के आत्मा का कार्य दक्षिणी अमेरिका में फैल रहा है; अफ्रिका में प्रतिदिन हज़ारों लोग प्रभु यीशु को अपना उद्धारकर्ता स्वीकार कर रहे हैं और पापों से क्षमा प्राप्त कर रहे हैं; अपने मसीही विश्वास के कारण संसार के लोगों से सताव झेलने वाले अपने विश्वास और मसीही सुसमाचार के प्रचार में बिना रुके बढ़ते ही जा रहे हैं; एशिया के देशों में उद्धार का सुसमाचार जड़ पकड़ता जा रहा है। क्या अपनी ही सीमित दिनचर्या से बाहर निकल कर इन सब बातों की तरफ आपका ध्यान कभी गया है? क्या इन बातों ने आपकी प्रार्थनाओं में स्थान पाया है? क्या इनमें सहयोगी होने की इच्छा आपके अन्दर भी जागृत हुई है?

   हमारा महत्वहीन बातों में मन लगाए रखना मुझे परमेश्वर के वचन में प्रेरित पौलुस की कही एक बात याद दिलाता है: "क्योंकि देमास ने इस संसार को प्रिय जान कर मुझे छोड़ दिया है, और थिस्सलुनीके को चला गया है, और क्रेसकेंस गलतिया को और तीतुस दलमतिया को चला गया है" (2 तिमुथियुस 4:10); क्या कभी देमास को इस बात का पछतावा हुआ होगा कि उसने सुसमाचार प्रचार में संभागी होने की आशीष को छोड़कर संसार की दौलत रूपी मिट्टी के ढेर अपने लिए चुन लिए थे?

   देमास को पछतावा हुआ था या नहीं, यह तो हम नहीं जानते लेकिन आज हम अपने लिए तो यह निर्णय कर ही सकते हैं कि देमास के समान हम परमेश्वर की अनन्त आशीषों के भण्डार छोड़कर संसारिक दौलत के मिट्टी के ढेर अर्जित करने में जीवन नहीं बिताएंगे वरन परमेश्वर द्वारा हमें दी गई योग्यताओं और गुणों को उसके राज्य और कार्य की बढ़ौतरी के लिए ही प्रयोग करेंगे। - जो स्टोवैल


संसार के महत्वहीन कार्य आपका ध्यान परमेश्वर के महत्वपूर्ण कार्यों से हटाने ना पाएं।

क्योंकि देमास ने इस संसार को प्रिय जान कर मुझे छोड़ दिया है, और थिस्सलुनीके को चला गया है, और क्रेसकेंस गलतिया को और तीतुस दलमतिया को चला गया है। - 2 तिमुथियुस 4:10

बाइबल पाठ: 2 तिमुथियुस 4:6-18
2 Timothy 4:6 क्योंकि अब मैं अर्घ की नाईं उंडेला जाता हूं, और मेरे कूच का समय आ पहुंचा है।
2 Timothy 4:7 मैं अच्छी कुश्‍ती लड़ चुका हूं मैं ने अपनी दौड़ पूरी कर ली है, मैं ने विश्वास की रखवाली की है।
2 Timothy 4:8 भविष्य में मेरे लिये धर्म का वह मुकुट रखा हुआ है, जिसे प्रभु, जो धर्मी, और न्यायी है, मुझे उस दिन देगा और मुझे ही नहीं, वरन उन सब को भी, जो उसके प्रगट होने को प्रिय जानते हैं।
2 Timothy 4:9 मेरे पास शीघ्र आने का प्रयत्न कर।
2 Timothy 4:10 क्योंकि देमास ने इस संसार को प्रिय जान कर मुझे छोड़ दिया है, और थिस्सलुनीके को चला गया है, और क्रेसकेंस गलतिया को और तीतुस दलमतिया को चला गया है।
2 Timothy 4:11 केवल लूका मेरे साथ है: मरकुस को ले कर चला आ; क्योंकि सेवा के लिये वह मेरे बहुत काम का है।
2 Timothy 4:12 तुखिकुस को मैं ने इफिसुस को भेजा है।
2 Timothy 4:13 जो बागा मैं त्रोआस में करपुस के यहां छोड़ आया हूं, जब तू आए, तो उसे और पुस्‍तकें विशेष कर के चर्मपत्रों को लेते आना।
2 Timothy 4:14 सिकन्‍दर ठठेरे ने मुझ से बहुत बुराइयां की हैं प्रभु उसे उसके कामों के अनुसार बदला देगा।
2 Timothy 4:15 तू भी उस से सावधान रह, क्योंकि उसने हमारी बातों का बहुत ही विरोध किया।
2 Timothy 4:16 मेरे पहिले प्रत्युत्तर करने के समय में किसी ने भी मेरा साथ नहीं दिया, वरन सब ने मुझे छोड़ दिया था: भला हो, कि इस का उन को लेखा देना न पड़े।
2 Timothy 4:17 परन्तु प्रभु मेरा सहायक रहा, और मुझे सामर्थ दी: ताकि मेरे द्वारा पूरा पूरा प्रचार हो, और सब अन्यजाति सुन ले; और मैं तो सिंह के मुंह से छुड़ाया गया।
2 Timothy 4:18 और प्रभु मुझे हर एक बुरे काम से छुड़ाएगा, और अपने स्‍वर्गीय राज्य में उद्धार कर के पहुंचाएगा: उसी की महिमा युगानुयुग होती रहे। आमीन।

एक साल में बाइबल: 
  • भजन 143-145 
  • 1 कुरिन्थियों 14:21-40