बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, December 2, 2013

सदा तत्पर


   मेरी बहन के घर में कुछ किराएदार रहते हैं। एक रात एक किराएदार के यहाँ चोर घुसने का प्रयास करने लगे। उस किराएदार ने पुलिस को फोन कर के बताया कि चोर उसके घर में घुसने का प्रयास कर रहे हैं और उसे तुरंत सहायता की आवश्यकता है। दूसरी ओर से फोन का उत्तर देने वाले व्यक्ति की प्रतिक्रिया सुन कर वह किराएदार दंग रह गई; पुलिस की ओर से फोन सुनने वाले ने कहा, "हम अभी बहुत व्यसत हैं; कृपया प्रातः पुनः फोन करें!" यह प्रत्युत्तर वास्तव में बहुत परेशान करने वाला था। उस किराएदार ने पुलिस से सहायता माँगकर सही कार्य किया था लेकिन किसी कारणवश उसकी सहायता की पुकार को अनसुना कर दिया गया। उन से, जिन्हें तुरंत और हर समय सहायता देने के लिए तैयार और तत्पर मिलना चाहिए, इस प्रकार का उत्तर पाना वास्तव में बहुत निराशाजनक होता है।

   लेकिन इस प्रकार का उत्तर और सहायता की पुकार के प्रति उदासीनता परमेश्वर के साथ कभी देखने को नहीं मिलती। चाहे हमें यह लगे कि परमेश्वर हमारी सुन नहीं रहा है, लेकिन वह सदा सुनता है। वह हमारी चिंता करता है, देखभाल करता है और हमारी पुकार का उत्तर अवश्य देता है। परमेश्वर का वचन बाइबल हमें आश्वस्त करता है कि हमारा परमेश्वर पिता हमारे हृदय की चिन्ताओं से अवगत रहता है और उनके समाधान के मार्ग देता है: "जितने यहोवा को पुकारते हैं, अर्थात जितने उसको सच्चाई से पुकारते हें; उन सभों के वह निकट रहता है" (भजन 145:18)। जब कभी हम उसे पुकारते हैं, तो उससे कभी हमें उदासीनता का प्रत्युत्तर नहीं मिलता।

   हमारी सहायता की पुकार सुनकर वह अपने आप को हमसे दूर नहीं कर लेता, वरन हमारा परमेश्वर पिता हमारे और समीप आ जाता है, हमें शांति और सांत्वना देता है। वह अपने बच्चों की प्रार्थनाओं का उत्तर देने के लिए कभी ’अति-व्यस्त’ नहीं होता - वह सुनते ही उत्तर देता है। - बिल क्राउडर


परमेश्वर की प्रार्थना लाइन पर ’व्यस्त’ होने का संकेत आपको कभी नहीं मिलेगा।

यहोवा टूटे मन वालों के समीप रहता है, और पिसे हुओं का उद्धार करता है। - भजन 34:18

बाइबल पाठ: भजन 145:8-21
Psalms 145:8 यहोवा अनुग्रहकारी और दयालु, विलम्ब से क्रोध करने वाला और अति करूणामय है। 
Psalms 145:9 यहोवा सभों के लिये भला है, और उसकी दया उसकी सारी सृष्टि पर है।
Psalms 145:10 हे यहोवा, तेरी सारी सृष्टि तेरा धन्यवाद करेगी, और तेरे भक्त लोग तुझे धन्य कहा करेंगे! 
Psalms 145:11 वे तेरे राज्य की महिमा की चर्चा करेंगे, और तेरे पराक्रम के विषय में बातें करेंगे; 
Psalms 145:12 कि वे आदमियों पर तेरे पराक्रम के काम और तेरे राज्य के प्रताप की महिमा प्रगट करें। 
Psalms 145:13 तेरा राज्य युग युग का और तेरी प्रभुता सब पीढ़ियों तक बनी रहेगी।
Psalms 145:14 यहोवा सब गिरते हुओं को संभालता है, और सब झुके हुओं को सीधा खड़ा करता है। 
Psalms 145:15 सभों की आंखें तेरी ओर लगी रहती हैं, और तू उन को आहार समय पर देता है। 
Psalms 145:16 तू अपनी मुट्ठी खोल कर, सब प्राणियों को आहार से तृप्त करता है। 
Psalms 145:17 यहोवा अपनी सब गति में धर्मी और अपने सब कामों में करूणामय है। 
Psalms 145:18 जितने यहोवा को पुकारते हैं, अर्थात जितने उसको सच्चाई से पुकारते हें; उन सभों के वह निकट रहता है। 
Psalms 145:19 वह अपने डरवैयों की इच्छा पूरी करता है, ओर उनकी दोहाई सुन कर उनका उद्धार करता है। 
Psalms 145:20 यहोवा अपने सब प्रेमियों की तो रक्षा करता, परन्तु सब दुष्टों को सत्यानाश करता है।
Psalms 145:21 मैं यहोवा की स्तुति करूंगा, और सारे प्राणी उसके पवित्र नाम को सदा सर्वदा धन्य कहते रहें।

एक साल में बाइबल: 
  • यहेजकेल 42-44 
  • 1 यूहन्ना 1