बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, January 20, 2014

अनुग्रह


   अमेरिका में स्थानीय समाचार पत्रों में 1970 के दशक के मध्य भाग में तलाक संबंधी सूचनाएं - किन लोगों ने तलाक के लिए अर्ज़ी दी है और किन का तलाक हो गया है, प्रकाशित होनी आरंभ हो गईं। हमारे चर्च के एक पास्टर बिल फ्लेनेगन ने प्रत्येक सप्ताह उन लोगों के नाम पढ़ना आरंभ किया, उनका प्रयास था कि लोग आंकड़ों पर नहीं वरन व्यक्तियों पर ध्यान दें। उन लोगों की सहायता के लिए उन्होंने तलाक से बहाली की कार्यशाला आरंभ करी जहाँ इन कठिन और दुखदायी समयों में दुखी लोगों को प्रभु यीशु के नाम में कुछ सांत्वना और सहायता मिल सके। हमारे चर्च के कुछ सदस्यों ने आपत्ति करी और कहा कि ऐसा कर के बिल तलाक को समर्थन दे रहे हैं। बिल का नम्र और धीमी आवाज़ में उत्तर था, मैं तो केवल उन लोगों तक परमेश्वर के अनुग्रह को पहुँचा रहा हूँ जिन्हें इस की आवश्यकता है।

   प्रभु यीशु ने जब मत्ती को, जो एक चुँगी लेने वाला था, अपने पीछे आने को कहा तो मत्ती प्रभु के साथ हो लिया; फिर मत्ती ने प्रभु यीशु को अपने घर भोजन करने के लिए बुलाया और प्रभु उसके घर भोजन करने के लिए गया। यह देख कर उस समय के धर्म के अगुवों ने आपत्ति करी और प्रभु यीशु पर आरोप लगाया कि वह पापी लोगों की संगति करता है, उनके साथ खाता-पीता है। प्रभु यीशु ने उन्हें उत्तर दिया: "उसने यह सुनकर उन से कहा, वैद्य भले चंगों को नहीं परन्तु बीमारों को आवश्यक है। सो तुम जा कर इस का अर्थ सीख लो, कि मैं बलिदान नहीं परन्तु दया चाहता हूं; क्योंकि मैं धर्मियों को नहीं परन्तु पापियों को बुलाने आया हूं" (मत्ती 9:12-13)। संसार का सबसे बड़ा और महान वैद्य, प्रभु यीशु, प्रत्येक जन से उसकी आवश्यकता के स्थान पर मिलना चाहता है; वह सबको पापों से क्षमा, चँगाई और आशा देना चाहता है। हम जिसके योग्य भी नहीं हैं वह सब वो हमें अपने अनुग्रह में होकर मुफ्त में देना चाहता है।

   ज़रूरतमन्द लोगों की सहायता के लिए अपने हाथ बढ़ाकर हम भी परमेश्वर का वह अनुग्रह जो हमें मिला है उन तक पहुँचा सकते हैं, प्रभु यीशु के सांत्वना, आशा और चँगाई देने वाले हाथ तक उन्हें पहुँचा सकते हैं। - डेविड मैक्कैसलैंड


जब आप परमेश्वर के अनुग्रह को जानेंगे तो उसे औरों तक पहुँचाना भी चाहेंगे।

उसने यह सुनकर उन से कहा, वैद्य भले चंगों को नहीं परन्तु बीमारों को आवश्यक है। - मत्ती 9:12

बाइबल पाठ: मत्ती 9:9-13
Matthew 9:9 वहां से आगे बढ़कर यीशु ने मत्ती नाम एक मनुष्य को महसूल की चौकी पर बैठे देखा, और उस से कहा, मेरे पीछे हो ले। वह उठ कर उसके पीछे हो लिया।
Matthew 9:10 और जब वह घर में भोजन करने के लिये बैठा तो बहुतेरे महसूल लेने वाले और पापी आकर यीशु और उसके चेलों के साथ खाने बैठे। 
Matthew 9:11 यह देखकर फरीसियों ने उसके चेलों से कहा; तुम्हारा गुरू महसूल लेने वालों और पापियों के साथ क्यों खाता है? 
Matthew 9:12 उसने यह सुनकर उन से कहा, वैद्य भले चंगों को नहीं परन्तु बीमारों को आवश्यक है। 
Matthew 9:13 सो तुम जा कर इस का अर्थ सीख लो, कि मैं बलिदान नहीं परन्तु दया चाहता हूं; क्योंकि मैं धर्मियों को नहीं परन्तु पापियों को बुलाने आया हूं।

एक साल में बाइबल: 
  • निर्गमन 14-17