बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Tuesday, December 22, 2015

अचरज


   बाइबल कॉलेज में मेरे प्रथम सत्र की समाप्ति पर मुझे अपनी पत्नि और दोनों बच्चों सहित अपने घर जाकर क्रिसमस की छुट्टी मनाने के लिए कॉलेज की ओर से हवाई यात्रा के टिकिट भेंट किए गए। हमारी यात्रा की पूर्व संध्या को हमें पता चला कि हमारे पास उस यात्रा के खर्च के लिए 20 डॉलर से भी कम मौजूद हैं, जबकि हवाई-अड्डे तक जाने और अन्य संबंधित खर्चों के लिए इससे अधिक पैसे की आवश्यकता थी। अन्दर से दुःखी, हमने इसके लिए प्रार्थना करने का निर्णय किया और प्रार्थना करने में अपने दोनों छोटे बच्चों, जिनकी उम्र 6 और 2 वर्ष की थी को भी सम्मिलित किया।

   प्रार्थना के दौरान हमें अपने घर के बाहर के गलियारे में किसी के चलने की आवाज़ सुनाई दी और फिर दरवाज़े के नीचे से कुछ अन्दर सरकाए जाने की आवाज़ आई। हमने जाकर देखा तो किसी ने एक लिफाफा हमारे दरवाज़े के नीचे से अन्दर खिसकाया था, और उस लिफाफे में हमारे लिए 50 डॉलर का गुमनाम उपहार रखा था, जो हमारी यात्रा संबंधित खर्चों को पूरा करने के लिए काफी था। प्रार्थना के इस तुरंत उत्तर को पा लेने का हमारे मनों के अन्दर का अचरज हमारी 6 वर्षीय बेटी के चेहरे पर साफ दिखाई दे रहा था। हमारे महान परमेश्वर पिता ने, प्रार्थना के उस तुरंत उत्तर के द्वारा, छोटी उम्र की हमारी बेटी के मन में अपना नाम पक्का लिख दिया था और हम भजनकार दाऊद के समान "...उसके सब आश्चर्य-कर्मों का ध्यान..." (1 इतिहास 16:9) कर सकते थे।

   कुछ यही उस पहले क्रिसमस की रात्रि को भी हुआ था, जब एक सर्व-सामर्थी, सर्व-ज्ञानी, महान परमेश्वर ने, अपने बिना-शर्त प्रेम और पापों की क्षमा को सभी के लिए सेंत-मेंत उपलब्ध करवा के, अपना नाम समस्त मानव जाति के हृदयों पर लिखे जाने का एकमात्र मार्ग दे दिया। मसीह यीशु का जन्म परमेश्वर के प्रेम और क्षमा को प्राप्त करने के लिए हमारी प्रार्थनाओं का उत्तर है; क्या आपने इसके अचरज और महानता को अपना लिया है? - रैंडी किलगोर


जब हम क्रिसमस के कारण को अपनाते हैं तो अचरज और अनन्त आनन्द से भरा जीवन पाते हैं।

जिस के पास पुत्र है, उसके पास जीवन है; और जिस के पास परमेश्वर का पुत्र नहीं, उसके पास जीवन भी नहीं है। - 1 यूहन्ना 5:12

बाइबल पाठ: 1 इतिहास 16:7-13
1 Chronicles 16:7 तब उसी दिन दाऊद ने यहोवा का धन्यवाद करने का काम आसाप और उसके भाइयों को सौंप दिया। 
1 Chronicles 16:8 यहोवा का धन्यवाद करो, उस से प्रार्थना करो; देश देश में उसके कामों का प्रचार करो। 
1 Chronicles 16:9 उसका गीत गाओ, उसका भजन करो, उसके सब आश्चर्य-कर्मों का ध्यान करो। 
1 Chronicles 16:10 उसके पवित्र नाम पर घमंड करो; यहोवा के खोजियों का हृदय आनन्दित हो। 
1 Chronicles 16:11 यहोवा और उसकी सामर्थ की खोज करो; उसके दर्शन के लिये लगातार खोज करो। 
1 Chronicles 16:12 उसके किए हुए आश्चर्यकर्म, उसके चमत्कार और न्यायवचन स्मरण करो। 
1 Chronicles 16:13 हे उसके दास इस्राएल के वंश, हे याकूब की सन्तान तुम जो उसके चुने हुए हो!

एक साल में बाइबल: 
  • मीका 6-7
  • प्रकाशितवाक्य 13