बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Tuesday, August 29, 2017

चलना


   मेरी बेटी चलना सीख रही है। मुझे उसे पकड़े रहना पड़ता है, और वह मेरी ऊँगली को दृढ़ता से थामे रहती है, क्योंकि वह अभी भी अपने आप से चलने में अस्थिर है। उसे गिरने का भय रहता है, परन्तु उसे संभालने और स्थिर रखने के लिए मैं उसके साथ बनी रहती हूँ। मेरी सहायता से चलते हुए उसकी आँखों में उत्साह, उल्लास और सुरक्षा की चमक होती है। परन्तु कभी-कभी जब मैं उसे कुछ खतरनाक रास्तों पर नहीं चलने देती हूँ तो वह रोने लगती है; उसे अभी यह समझ नहीं है कि उसे उन रास्तों पर जाने से रोक कर मैं उसकी रक्षा कर रही हूँ, उसे हानि में पड़ने से बचा रही हूँ।

   मेरी छोटी बेटी के समान, हमें भी बहुधा हमारे आत्मिक चाल-चलन में हमारा ध्यान रखने, हमारा मार्गदर्शन करने और हमें स्थिर बनाए रखने के लिए किसी बड़े और सामर्थी की आवश्यकता होती है। हम मसीही विश्वासियों के साथ हमारा प्रभु परमेश्वर है, जो हमारा, हम जो उसकी आत्मिक सन्तान हैं, सदा ध्यान रखता है, हमें चलने में सहायक होता है, हमारे कदमों को सही ओर ले जाता है, हमारा मार्गदर्श्न करता है, और गलत राहों से बचा कर रखता है।

   परमेश्वर के वचन बाइबल का एक नायक, राजा दाऊद, जीवन में परमेश्वर की देखभाल और सहायता की आवश्यकता को भली-भांति जानता था। अपने द्वारा लिखे भजनों में से एक, भजन 18 में दाऊद वर्णन करता है कि कैसे परमेश्वर हमारी सहायता और मार्गदर्शन करता है जब हम किसी परेशानी में पड़कर भटकने लगते हैं (पद 32)। परमेश्वर हमारे पैरों को हरिणियों के समान, जो बिना फिसले ऊँचे स्थानों पर चढ़ जाती हैं, स्थिर करता है (पद 33); और यदि हम फिसल भी जाएं तो भी वह हमें थाम लेने के लिए हमारे साथ बना रहता है (पद 35)।
   
   हम चाहे नए मसीही विश्वासी हों जो आत्मिक जीवन में कदम बढ़ाना अभी सीख ही रहे हैं, या हम अपने विश्वास के जीवन में आगे बढ़ चुके हों, हम सबको प्रभु परमेश्वर के थामे रखने और सही दिशा देने वाले हाथों की आवश्यकता बनी रहती है; और हमारा प्रभु हमारे सहारे और सहायता के लिए सदा हमारे साथ-साथ चलता रहता है। - कीला ओकोआ


मेरे जीवन मार्ग के हर कदम पर परमेश्वर मुझ पर ध्यान बनाए रखता है।

क्योंकि वह तो मुझे विपत्ति के दिन में अपने मण्डप में छिपा रखेगा; अपने तम्बू के गुप्त स्थान में वह मुझे छिपा लेगा, और चट्टान पर चढ़ाएगा। - भजन 27:5

बाइबल पाठ: भजन 18:30-36
Psalms 18:30 ईश्वर का मार्ग सच्चाई; यहोवा का वचन ताया हुआ है; वह अपने सब शरणागतों की ढाल है।
Psalms 18:31 यहोवा को छोड़ क्या कोई ईश्वर है? हमारे परमेश्वर को छोड़ क्या और कोई चट्टान है? 
Psalms 18:32 यह वही ईश्वर है, जो सामर्थ से मेरा कटिबन्ध बान्धता है, और मेरे मार्ग को सिद्ध करता है। 
Psalms 18:33 वही मेरे पैरों को हरिणियों के पैरों के समान बनाता है, और मुझे मेरे ऊंचे स्थानों पर खड़ा करता है। 
Psalms 18:34 वह मेरे हाथों को युद्ध करना सिखाता है, इसलिये मेरी बाहों से पीतल का धनुष झुक जाता है। 
Psalms 18:35 तू ने मुझ को अपने बचाव की ढाल दी है, तू अपने दाहिने हाथ से मुझे सम्भाले हुए है, और मेरी नम्रता ने महत्व दिया है। 
Psalms 18:36 तू ने मेरे पैरों के लिये स्थान चौड़ा कर दिया, और मेरे पैर नहीं फिसले।

एक साल में बाइबल: 
  • भजन 126-128
  • 1 कुरिन्थियों 10:19-33