Saturday, June 12, 2021

पर्दा

 

          एक भयानक कार दुर्घटना ने मैरी ऍन फ्रैंको तबाह कर दिया। यद्यपि वह जीवित बच गई, किन्तु चोटों के कारण वह पूर्णतः अंधी हो गई। उसने कहा, “मैं केवल काले अन्धकार को ही देख सकती थी।” इसके इक्कीस वर्ष पश्चात, गिरने के कारण उसकी पीठ में चोट आई, जिसके लिए उसका ऑपरेशन किया गया। ऑपरेशन की बेहोशी से उठने पर उसने पाया कि आश्चर्यजनक रीति से उसकी दृष्टि वापस लौट आई है, यद्यपि ऑपरेशन का उसकी आँखों के साथ कोई संबंध नहीं था। दो दशक से भी अधिक के बाद, फ्रैंको ने पहली बार अपनी बेटी को देखा। उसके चिकित्सकों ने यही कहा कि उनके पास उसकी दृष्टि के ठीक हो जाने का कोई स्पष्टीकरण नहीं है। वह अन्धकार जो अंतिम प्रतीत होता था, उसके स्थान पर अब ज्योति और सुन्दरता आ गई थी।

          परमेश्वर का वचन बाइबल, तथा हमारे अपने अनुभव हमें बताते हैं कि सारे संसार पर पाप और अज्ञानता का पर्दा पड़ा हुआ है, जिसने सभी को परमेश्वर के प्रेम के प्रति अँधा कर दिया है (यशायाह 25:7)। हमारी सांसारिक अभिलाषाएँ – हमारा लालच और स्वार्थ, हमारी परमेश्वर की अवहेलना और अपने स्वयं पर ही भरोसा करना, हमारा सांसारिक स्तर और शक्ति में बढ़ते जाने की लालसा पाले रखना – हमारे दृष्टिकोण को धूमिल कर देते हैं, हमें उस परमेश्वर को स्पष्टता से नहीं देखने देते हैं जिसने हमें और सृष्टि को रचा है, जो हम से प्रेम करता है, और हमारी भलाई की योजनाएँ बनाता है।

          हमारे अपने प्रयास और आकांक्षाएँ हमें केवल अन्धकार, निराशा, और भ्रम में ही फंसाए रखते हैं। हम इधर-उधर टटोलते हैं, अपनी ही इच्छा और समझ के अनुसार अपने ही प्रयास करते हैं, किन्तु आगे बढ़ने का मार्ग न तो ढूँढने पाते हैं और न ही आगे बढ़ने पाते हैं। लेकिन परमेश्वर का धन्यवाद हो कि उसने अपने भविष्यद्वक्ता, यशायाह के द्वारा यह वायदा दिया है कि अन्ततः, परमेश्वर संसार के लोगों पर पड़े हुए इस अन्धकार के परदे को हटा कर नष्ट कर देगा।

          परमेश्वर हमें आशाहीन नहीं छोड़ेगा; उसका ज्योतिर्मय प्रेम उस सब को हटा देता है जो हमें अंधा करता है। प्रभु यीशु में लाया गया विश्वास हमें एक भले जीवन तथा उसके बहुतायत के अनुग्रह की आशीषों से भर देता है। - विन्न कोलियर

 

हे पिता, मुझे पाप के अन्धकार से निकाल कर प्रभु यीशु के जीवन की ज्योति में ले आ।


परन्तु यदि हमारे सुसमाचार पर परदा पड़ा है, तो यह नाश होने वालों ही के लिये पड़ा है। और उन अविश्वासियों के लिये, जिन की बुद्धि को इस संसार के ईश्वर ने अन्‍धी कर दी है, ताकि मसीह जो परमेश्वर का प्रतिरूप है, उसके तेजोमय सुसमाचार का प्रकाश उन पर न चमके। - 2 कुरिन्थियों 4:3-4

बाइबल पाठ: यशायाह 25:1-9

यशायाह 25:1 हे यहोवा, तू मेरा परमेश्वर है; मैं तुझे सराहूंगा, मैं तेरे नाम का धन्यवाद करूंगा; क्योंकि तू ने आश्चर्यकर्म किए हैं, तू ने प्राचीनकाल से पूरी सच्चाई के साथ युक्तियां की हैं।

यशायाह 25:2 तू ने नगर को ढेर बना डाला, और उस गढ़ वाले नगर को खण्डहर कर डाला है; तू ने परदेशियों की राजपुरी को ऐसा उजाड़ा कि वह नगर नहीं रहा; वह फिर कभी बसाया न जाएगा।

यशायाह 25:3 इस कारण बलवन्त राज्य के लोग तेरी महिमा करेंगे; भयंकर अन्यजातियों के नगरों में तेरा भय माना जाएगा।

यशायाह 25:4 क्योंकि तू संकट में दीनों के लिये गढ़, और जब भयानक लोगों का झोंका भीत पर बौछार के समान होता था, तब तू दरिद्रों के  लिये उनकी शरण, और तपन में छाया का स्थान हुआ।

यशायाह 25:5 जैसे निर्जल देश में बादल की छाया से तपन ठण्डी होती है वैसे ही तू परदेशियों का कोलाहल और क्रूर लोगों को जयजयकार बन्द करता है।

यशायाह 25:6 सेनाओं का यहोवा इसी पर्वत पर सब देशों के लोगों के लिये ऐसी जेवनार करेगा जिस में भांति भांति का चिकना भोजन और निथरा हुआ दाखमधु होगा; उत्तम से उत्तम चिकना भोजन और बहुत ही निथरा हुआ दाखमधु होगा।

यशायाह 25:7 और जो पर्दा सब देशों के लोगों पर पड़ा है, जो घूंघट सब अन्यजातियों पर लटका हुआ है, उसे वह इसी पर्वत पर नाश करेगा।

यशायाह 25:8 वह मृत्यु को सदा के लिये नाश करेगा, और प्रभु यहोवा सभों के मुख पर से आंसू पोंछ डालेगा, और अपनी प्रजा की नामधराई सारी पृथ्वी पर से दूर करेगा; क्योंकि यहोवा ने ऐसा कहा है।

यशायाह 25:9 और उस समय यह कहा जाएगा, देखो, हमारा परमेश्वर यही है; हम इसी की बाट जोहते आए हैं, कि वह हमारा उद्धार करे। यहोवा यही है; हम उसकी बाट जोहते आए हैं। हम उस से उद्धार पाकर मगन और आनन्दित होंगे।

 

एक साल में बाइबल: 

  • एज्रा 3-5
  • यूहन्ना 20


No comments:

Post a Comment