बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Sunday, September 18, 2016

अवसर


   जब जाने-माने लेखक स्टड्स टर्कल अपनी अगली पुस्तक लिखने के लिए विषय ढूँढ़ रहे थे तो उनके एक मित्र ने सुझाव दिया कि वे "मृत्यु" पर लिखें। आरंभ में तो टर्कल इस विषय से सहमत नहीं थे, परन्तु धीरे-धीरे उनके अन्दर इस पर लिखने के लिए विचार पनपने लगे; और जब 60 वर्ष के विवाहित जीवन के बाद उनकी पत्नि का देहांत हो गया, तब यह विषय उनके लिए और भी अधिक सजीव हो गया। अब इस विषय की वह पुस्तक उनके लिए एक व्यक्तिगत खोज बन गई; वे जानना चाहते थे कि जहाँ उनकी प्रीय गई हैं, वहाँ क्या है, वह कैसा स्थान है। उस पुस्तक के पृष्ठ, मसीही विश्वास की हमारी यात्रा में हमारे सामने आने वाले प्रभु यीशु तथा अनन्तकाल से संबंधित हमारे प्रश्नों और चिंताओं की एक मर्मस्पर्शी याद हैं।

   मैं धन्यवादी हूँ उस आश्वासन के लिए जो हम मसीही विश्वासियों को मिला है कि यदि हमने प्रभु यीशु पर विश्वास कर के उससे अपने पापों की क्षमा माँग ली है, तो मृत्योपरांत हम मसीह यीशु के साथ स्वर्ग में ही होंगे। इससे से बढ़कर और कोई आशा है ही नहीं; और अब यह हमारा विशेषाधिकार है कि हम इस सर्वोत्तम आशा को अधिक से अधिक लोगों के साथ बाँटने वाले हों। परमेश्वर के वचन बाइबल में प्रेरित पतरस ने प्रोत्साहित किया, "पर मसीह को प्रभु जान कर अपने अपने मन में पवित्र समझो, और जो कोई तुम से तुम्हारी आशा के विषय में कुछ पूछे, तो उसे उत्तर देने के लिये सर्वदा तैयार रहो, पर नम्रता और भय के साथ" (1 पतरस 3:15)। जैसा दाऊद ने लिखा, "यहोवा का धन्यवाद करो, उस से प्रार्थना करो; देश देश में उसके कामों का प्रचार करो" (1 इतिहास 16:8), हमारे पास भी यह सुअवसर है कि हम भी ऐसा ही करें।

   जिन सब से हम प्रेम रखते हैं उनके जीवनों की कहानियाँ अभी समाप्त नहीं हुई हैं, और हमारे पास उन्हें अपनी गवाही देने, प्रभु यीशु के प्रेम के अद्भुत तथा बहुमूल्य उपहार के बारे में बताने का विशेषाधिकार तथा अवसर है; इसका अवसर का सदुपयोग अवश्य करें। - रैंडी किलगोर


काश कि हमारे जीवन के दिन मसीह यीशु की गवाही 
देने के अवसरों का सदुपयोग करने की लालसा से भरे हों।

और अवसर को बहुमोल समझो, क्योंकि दिन बुरे हैं। - इफिसियों 5:16

बाइबल पाठ: 1 इतिहास 16:7-13
1 Chronicles 16:7 तब उसी दिन दाऊद ने यहोवा का धन्यवाद करने का काम आसाप और उसके भाइयों को सौंप दिया। 
1 Chronicles 16:8 यहोवा का धन्यवाद करो, उस से प्रार्थना करो; देश देश में उसके कामों का प्रचार करो। 
1 Chronicles 16:9 उसका गीत गाओ, उसका भजन करो, उसके सब आश्चर्य-कर्मों का ध्यान करो। 
1 Chronicles 16:10 उसके पवित्र नाम पर घमंड करो; यहोवा के खोजियों का हृदय आनन्दित हो। 
1 Chronicles 16:11 यहोवा और उसकी सामर्थ की खोज करो; उसके दर्शन के लिये लगातार खोज करो। 
1 Chronicles 16:12 उसके किए हुए आश्चर्यकर्म, उसके चमत्कार और न्यायवचन स्मरण करो। 
1 Chronicles 16:13 हे उसके दास इस्राएल के वंश, हे याकूब की सन्तान तुम जो उसके चुने हुए हो!

एक साल में बाइबल: 
  • नीतिवचन 30-31
  • 2 कुरिन्थियों 11:1-15