बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Saturday, February 9, 2019

सहायक



      जून 1962 में फ्लोरिडा की एक जेल की कोठरी से, क्लैरेंस अर्ल गिडियन ने अमेरिका के सर्वोच्च न्यायालय को दरख्वास्त लिखी कि उसके दण्ड पर पुनःविचार किया जाए क्योंकि उसने अपराध किया ही नहीं था। उसने यह भी लिखा कि उसके पास उसका मुकद्दमा लड़ने के लिए वकील करने के लिए पैसे नहीं हैं।

      एक वर्ष पश्चात, ऐतिहासिक गिडियन बनाम वेनराईट मुकद्दमे में, सर्वोच्च न्यायालय ने निर्णय दिया कि जो लोग अपने बचाव के लिए वकील कर सकने की आर्थिक स्थिति में नहीं हैं उन्हें सरकार द्वारा वकील दिया जाना चाहिए। इस निर्णय के साथ, और सरकार द्वारा प्रदान किए गए वकील की सहायता से, क्लैरेंस अर्ल गिडियन के मुकद्दमे को पुनः लड़ा गया और वह बरी हो गया।

      परन्तु यदि हम निर्दोष नहीं हों तो क्या? परमेश्वर के वचन बाइबल में प्रेरित पौलुस ने लिखा कि सभी मनुष्य पाप के दोषी हैं; पाप से निर्दोष कोई भी नहीं है। परन्तु स्वर्ग का न्यायालय हमारे लिए एक सहायक प्रदान करता है, जो परमेश्वर द्वारा चुकाई गई कीमत पर हमारी आत्मा को बचाने के लिए कार्य करता है (1 यूहन्ना 2:2)। हमारे स्वर्गीय पिता परमेश्वर की ओर से प्रभु यीशु हमारी सहायता के लिए आता है और एक ऐसी अद्भुत स्वतंत्रता का प्रस्ताव देता है जो पृथ्वी पर कहीं उपलब्ध नहीं है – हृदय और मन की स्वतंत्रता।

      चाहे हम हमारे प्रति, या, हमारे द्वारा किए गए अन्यायों के कारण दुःख उठा रहे हों, प्रभु यीशु मसीह हम सभी की सहायता करने को तैयार है। सर्वोच्च अधिकार के अन्तर्गत वह दया, क्षमा और शान्ति के प्रत्येक निवेदन का उत्तर देता है।

      हमारा सहायक प्रभु यीशु खोई हुई आशा, भय, या पछतावे की कैद को अपनी उपस्थिति तथा आनन्द का स्थान बना सकता है। - मार्ट डीहान


जो हमारे स्थान पर बलिदान हुआ था, वही अब हमारा सहायक बनकर जीवित है।

फिर कौन है जो दण्ड की आज्ञा देगा? मसीह वह है जो मर गया वरन मुर्दों में से जी भी उठा, और परमेश्वर की दाहिनी ओर है, और हमारे लिये निवेदन भी करता है। - रोमियों 8:34

बाइबल पाठ: 1 यूहन्ना 1:5-2:2
1 John 1:5 जो समाचार हम ने उस से सुना, और तुम्हें सुनाते हैं, वह यह है; कि परमेश्वर ज्योति है: और उस में कुछ भी अन्धकार नहीं।
1 John 1:6 यदि हम कहें, कि उसके साथ हमारी सहभागिता है, और फिर अन्धकार में चलें, तो हम झूठे हैं: और सत्य पर नहीं चलते।
1 John 1:7 पर यदि जैसा वह ज्योति में है, वैसे ही हम भी ज्योति में चलें, तो एक दूसरे से सहभागिता रखते हैं; और उसके पुत्र यीशु का लोहू हमें सब पापों से शुद्ध करता है।
1 John 1:8 यदि हम कहें, कि हम में कुछ भी पाप नहीं, तो अपने आप को धोखा देते हैं: और हम में सत्य नहीं।
1 John 1:9 यदि हम अपने पापों को मान लें, तो वह हमारे पापों को क्षमा करने, और हमें सब अधर्म से शुद्ध करने में विश्वासयोग्य और धर्मी है।
1 John 1:10 यदि कहें कि हम ने पाप नहीं किया, तो उसे झूठा ठहराते हैं, और उसका वचन हम में नहीं है।
1 John 2:1 हे मेरे बालकों, मैं ये बातें तुम्हें इसलिये लिखता हूं, कि तुम पाप न करो; और यदि कोई पाप करे, तो पिता के पास हमारा एक सहायक है, अर्थात धार्मिक यीशु मसीह।
1 John 2:2 और वही हमारे पापों का प्रायश्‍चित्त है: और केवल हमारे ही नहीं, वरन सारे जगत के पापों का भी।
                                                                                                                                                        
एक साल में बाइबल: 
  • लैव्यवस्था 6-7
  • मत्ती 25:1-30